About Me

header ads

जेटली ने की बजट की तारीफ, कहा देश को उच्च आर्थिक वृद्धि दर के रास्ते पर ले जानें में सक्षम


देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 जुलाई को बजट 2019 पेश किया, जिसमें कई बड़ी घोषणाएं हुईं और कई योजनाओं को लॉन्च किया गया है। केंद्रीय बजट में वित्त मंत्री ने की ऐसे अहम फैसले लिए जो देश को आगे ले जाने का काम करेंगे। देश पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने कहा कि बजट 2019 हाई इकोनॉमी ग्रोथ रेट के रास्ते पर देश के लौटने के बारे में बता रहा है।

शनिवार को उन्होंने कहा कि यह बजट इस बात पर बेस्ड है कि जो अर्थव्यवस्थाएं सूझबूझ वाली राजकोषीय नीतियों पर चलती हैं वो राजकोषीय मोर्चे पर लापरवाही करने वालों की तुलना में हमेशा कामयाब होती हैं। जेटली ने कहा कि बजट पेश होने के बाद एक सवाल हमेशा पूछा गया है कि अच्छा अर्थशास्त्र और चतुर राजनीति के बीच क्या चुना जाना चाहिए। 'द बजट 2019-20' टाइटल वाली अपनी पोस्ट में उन्होंने कहा कि यह ऑप्शन अनुचित है क्योंकि किसी भी सरकार को बने रहने और प्रदर्शन के लिए दोनों की जरूरत है। पीएम का पहला कार्यकाल बेहतर इकोनॉमी और अच्छी राजनीति का सबूत रहा है।

जेटली ने कहा कि बजट विकास की उम्मीद रखने वाले भारत के लिए राजनीतिक दिशा तैयार करता है। मीडियम क्लास और नए-मिडिल क्लास कैटेगरी को राहत देने वाले कई फैसले लिए गए हैं। इसमें सस्ता घर और इलेक्ट्रिक व्हीकल जैसी कई चीजें शामिल हैं। इसके अलावा रोजगार पैदा करना तथा इन्वेस्टमेंट लाने के लिए बुनियादी ढांचा, निर्माण और रीयल एस्टेट सेक्टर को स्पीड देने के लिए कार्य किए गए हैं। जेटली ने कहा कि भारत दुनिया में तेज स्पीड से इकोनॉमी ग्रोथ वाली बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है। पिछली 2-3 तिमाहियों में ग्रोथ हल्की हुई है। निश्चित रूप से बजट एक पॉलिसी डॉक्यूमेंट के रूप में इकोनॉमी ग्रोथ के रास्ते पर भारत को वापस लाने के लिए काम करेगा।