बंगाल में आज से भाजपा निकाल रही शहीद सम्मान यात्रा, हिंसा में मारे गए कार्यकर्ताओं के घर जाएंगे मंत्री, सांसद व विधायक

बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद हुई हिंसा में मारे गए कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देने के लिए भाजपा की प्रदेश इकाई मंगलवार से राज्य में शहीद सम्मान यात्रा निकालने जा रही है। 17 से 19 अगस्त तक आयोजित होने वाले इस तीन दिवसीय यात्रा में बंगाल से केंद्र में चारों मंत्री सुभाष सरकार, जॉन बारला, शांतनु ठाकुर और निशिथ प्रमाणिक भी हिस्सा लेंगे और हिंसा में मारे गए पार्टी कार्यकर्ताओं के घर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

केंद्रीय मंत्रियों के अलावा बंगाल से पार्टी के सभी सांसद व विधायक एवं अन्य वरिष्ठ नेता इस यात्रा में हिस्सा लेंगे। मारे गए कार्यकर्ताओं एवं समर्थकों को श्रद्धांजलि देने के साथ भाजपा नेता जनता के बीच जाकर ममता सरकार के कुशासन आदि को भी उजागर करेंगे। गौरतलब है कि भाजपा 17 से 19 अगस्त तक राष्ट्रीय स्तर पर जन आशीर्वाद यात्रा का आयोजन करने जा रही है, लेकिन बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा को देखते हुए मृतक कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देने के लिए राज्य में इसका नाम बदलकर शहीद सम्मान यात्रा के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है। शहीद सम्मान यात्रा से पहले प्रदेश भाजपा ने नौ से 16 अगस्त तक बंगाल बचाओ सप्ताह का पालन किया।

वहीं, बंगाल बचाओ सप्ताह के बाद अब शहीद सम्मान यात्रा के जरिए भाजपा एक बार फिर बंगाल में पूरी ताकत के साथ मैदान में उतर कर लोगों का भरोसा जीतने व ममता बनर्जी को सख्त संदेश देने की कोशिश करेगी। गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद राज्य में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। हाई कोर्ट के निर्देश पर हिंसा की जांच के लिए गठित राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) की जांच समिति ने भी अपनी रिपोर्ट में हिंसा को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ गंभीर टिप्पणी की। हिंसा को लेकर भाजपा लगातार ममता सरकार के खिलाफ हमलावर रही है। वहीं, अब शहीद सम्मान यात्रा के जरिए सरकार को घेरने की कोशिश करेगी।