डीएम ने सभी बैंकों को हिदायत दी कि जीवका के जितने भी आवेदन है सभी को अविलंब निष्पादित करें।


-डीएम की अध्यक्षता में जिला स्तरीय सलाहकार समीक्षा समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित की गई। 

सूरज कुमार

-----------

गया। जिला स्तरीय सलाहकार समीक्षा समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में शनिवार को डीएम  अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य रूप से जीविका दीदियों द्वारा किए जा रहे कार्यों पर चर्चा की गई।

बैठक में डीएम ने सभी बैंक को निर्देश दिया कि स्वयं सहायता समूह से जुड़े हुए व्यक्तियों को ऋण प्राथमिकता देकर उपलब्ध कराएं। डीएम ने डीपीएम जीविका को कहा कि शेष बचे हुए ग्राम संगठनों को प्रारंभिक निवेश निधि अविलंब उपलब्ध कराया जाए। जीविका के बीपीएम कोच एवं बीपीएम टिकारी को निर्देश दिया गया कि ग्राम संगठनों को खाद्य सुरक्षा निधि 15 फरवरी के अंदर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

डीएम ने प्रभावती अस्पताल, अनुमंडल अस्पताल टिकारी एवं गौतम बुद्ध कुष्ठ आश्रम प्रेतशिला में दीदी की रसोई प्रारंभ करने हेतु सिविल सर्जन को अति शीघ्र स्थल/जमीन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

 डीएम ने डीपीएम जीविका को निर्देश दिया कि फूड फोर्टीफाइ यूनिट (बिटामिक्स) जो बोधगया में संचालित है, विटामिक्स के प्रोडक्ट को हाउसहोल्ड के अलावा अन्य जगह पर इसका बृहद स्तर पर विपणन हो सके इसके लिये कार्यवाही करें।

डीएम ने जीविका द्वारा जहां पर बकरी पालन भेड़ पालन किया जा रहा है उन सभी संबंधित लाभार्थियों को मनरेगा योजना के तहत पशु शेड उपलब्ध कराने हेतु निदेशक डीआरडीए संतोष कुमार को निर्देश दिया।

 डीएम ने पशुपालन विभाग एवं जीविका को निर्देश दिया कि दोनों आपस में समन्वय स्थापित कर राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत 2500 अनुसूचित परिवारों को चयनित करा कर मुर्गी पालन योजना को प्रारंभ कराया जाए।

सभी बैंकों को डीएम द्वारा निर्देश दिया गया कि जीविका जिस तरह से कार्य कर रही है, इनके आवेदनों को बैंकों द्वारा समयावधि में निष्पादित करें। पूरे बिहार में जीविका दीदी द्वारा एक सराहनीय कार्य किया जा रहा है।

ADVERTISEMENT