Coronavirus Updates: देश में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, 51 लाख केस-10 लाख एक्टिव मरीज


कोरोना जैसे-जैसे पांव पसार रहा है, मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. अब देशभर में कोरोना मामलों का आंकड़ा 51 लाख के पार जा चुका है. इसका सबसे ज्यादा संकट स्वास्थ्य सेवाओं पर दिखने लगा है. कई शहरों में ऑक्सीजन सप्लाई की कमी बताई जा रही है तो कुछ जगहों पर बेड की कमी.

कोरोना वायरस बेकाबू है. इन दिनों रोजाना 90 हजार से ज्यादा लोग एक दिन में संक्रमित हो रहे हैं. मरने वालों का आंकड़ा भी 24 घंटे में 1 हजार से नीचे नहीं आ रहा. इस भीषण खतरे के बीच राहत की कोई किरण भी नजर नहीं आ रही.

महाराष्ट्र में तो हालत ऐसी हो गई है कि अस्पतालों में अब ऑक्सीजन की किल्लत होने लगी है. बढ़ते डिमांड की वजह से राज्य में कुछ जगहों पर मौत भी होने लगी है. उन्हीं में से एक हैं हिंगोली जिले के संजय अंभोरे. ऑक्सीजन के अभाव में जान चली गई. वहीं महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री दावा कर रहे हैं कि फिलहाल किसी जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी नहीं. 

देश में पांव पसारता कोरोना

कुल संक्रमितों की संख्या 51 लाख से ज्यादा हो चुकी है. अलग-अलग राज्यों के आंकड़ों पर नजर डालें तो.. 

महाराष्ट्र में 24 घंटे में 23 हजार से ज्यादा केस आए. इसके साथ ही राज्य में संक्रमण का आंकड़ा बढ़कर 11,21,221 हो गया.
कल आंध्रप्रदेश में भी 8835 नए मामले सामने आए, इसे मिलाकर राज्य में कुल केस 5,92,760 हो गए. 
तमिनलनाडु में भी 5652 नए मामले दर्ज किए गए. इन्हें लेकर कुल संक्रमितों की संख्या 5,19,860 हो गई.
चौथे नंबर पर 9725 नए मामलों के साथ कर्नाटक में 4,84,990 कुल केस हो गए. 
वही यूपी में 24 घंटे में 6229 नए मामले सामने दर्ज किए गए. इसे मिलाकर कुल पीड़ितों की संख्या राज्य में 3,30,265 हो गई. 
दिल्ली की सूरत भी बदलती नहीं दिख रही. बुधवार की शाम राजधानी में 24 घंटे में 4473 मामले दर्ज किए गए. यहां एक दिन में ये अब तक के सबसे ज्यादा संक्रमण है. नए केस मिलाकर दिल्ली में संक्रमितों की कुल संख्या 2,30,269 हो गई है.

बढ़ते खतरे से सचेत होते हुए गुजरात सरकार ने अहम फैसला लिया है. 21 सितंबर से केन्द्र सरकार ने 9वीं से 12वीं क्लास के लिए स्कूल खोलने को कहा है. लेकिन रुपाणी सरकार ने तय किया है कि फिलहाल स्कूल बंद रहेंगे. 

दुनिया कोरोना संकट से त्राहि-त्राहि कर रही है. उन सबके बीच वैक्सीन की कवायद जोर शोर से जारी है. भारत के लिए भी उम्मीद यही है. रूस की वैक्सीन स्पूतनिक का क्लीनिकल ट्रायल और वितरण जल्द हैदराबाद की कंपनी डॉ रेड्डी शुरू कर सकती है. डील के तहत 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन तैयार किए जाएंगे.

ADVERTISEMENT