ट्रंप प्रशासन ने रखा कोरोना वैक्सीन का प्लान, जनवरी से हर अमेरिकी को मुफ्त में मिलेगी डोज


कोरोना वायरस से पूरी दुनिया परेशान है और हर देश इसकी वैक्सीन तलाशने में लगा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार दावा कर रहे हैं कि उनके देश में सबसे पहले वैक्सीन बनकर तैयार हो जाएगी. डोनाल्ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि अक्टूबर तक वैक्सीन को मंजूरी मिल जाएगी, जिसके बाद जनवरी से इसका उपयोग शुरू हो जाएगा. इसके लिए ट्रंप प्रशासन की ओर से एक प्लान भी जारी किया गया है कि किस तरह वैक्सीन लोगों को दी जाएगी. 

बुधवार को व्हाइट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रंप की ओर से ऐलान किया गया कि सभी अमेरिकियों को कोरोना वायरस की वैक्सीन मुफ्त में उपलब्ध कराई जाएगी. जिसके लिए जनवरी से जमीनी स्तर पर काम शुरू किया जाएगा. इसके तहत नेशनल हेल्थ डिपार्टमेंट सभी स्टेट के साथ बात कर उसे छोटे अस्पतालों तक पहुंचाने का काम करेगा. 

ट्रंप प्रशासन द्वारा जारी किए गए प्लान के मुताबिक, जनवरी के बाद शुरुआती कुछ वक्त के लिए वैक्सीन को सप्लाई निश्चित मात्रा में होगी. लेकिन उसके बाद इसे बढ़ाया जाएगा. एक मरीज को वैक्सीन के दो डोज दिए जाएंगे जो 21 से 28 दिनों के अंतर में होंगे, दोनों डोज वैक्सीन बनाने वाली एक ही कंपनी से होंगे. 

डोज मिलने के बाद 24 घंटे में मरीज पर इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा. व्हाइट हाउस की ओर से ऐलान किया गया है कि ये दुनिया का अबतक का सबसे बड़ा प्लान होगा, जिसके तहत इतनी बड़ी मात्रा में वैक्सीन दी जाएगी. डोनाल्ड ट्रंप ने अपने संबोधन में बताया कि अक्टूबर तक वैक्सीन को मंजूरी मिल जाएगी. 

साथ ही उन्होंने अपने विपक्षियों पर निशाना भी साधा और कहा कि जो बिडेन जैसे लोगों को एंटी-वैक्सीन अभियान नहीं चलाना चाहिए. मास्क कुछ देर ही काम करता है लेकिन वैक्सीन से कोरोना भाग जाएगा. अमेरिकी राष्ट्रपति बोले कि एक बार वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद देश के बड़े बिजनेसमैन और वैक्सीन निर्माता इसी काम में जुट जाएंगे.

ADVERTISEMENT