Encounter in Kashmir: पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ जारी, 1 आतंकी ढेर, सेना का एक जवान शहीद


दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले के गोसू इलाके में मंगलवार सुबह मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया। सेना का एक जवान शहीद  हो गया है। हालांकि मुठभेड़ अभी जारी है। कश्मीर जोन पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर पुलिस और सुरक्षा बल के जवान इस ऑपरेशन को अंजाम दे रहे हैं। उन्होंने पूरे इलाके को सील कर लिया है और छिपे हुए अन्य आतंकियों की तलाश की जा रही है। मुठभेड़ में एक सैन्य कर्मी शहीद और जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान दल का एक जवान जख्मी हो गया है।


मंगलवार सुबह जम्मू- कश्मीर के पुलवामा के गोसू इलाके में एक मुठभेड़ शुरू हुई।  कश्मीर जोन पुलिस ने कहा- पुलिस और सुरक्षा बल ऑपरेशन को अंजाम दे रहे हैं। अन्य जानकारी का इंतजार किया जा रहा है।गौरतलब है कि पुलिस और आर्मी की 53 राष्ट्रीय राइफल की टीम गोसू में सर्च ऑपरेशन चला रही है वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जॉइंट टीम और आतंकियों के बीच हुई फायरिंग की पुष्टि की है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के गोसू में सुरक्षाबल और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी और एक सेना का जवान घायल हो गया है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस और आर्मी की 53 राष्ट्रीय राइफल की टीम गुसू में सर्च ऑपरेशन चला रही है। इस दौरान पूरे इलाके को घेर लिया गया है। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है।

पुलिस और आर्मी के जवानों ने जैसे ही इलाके को घेरा आतंकी बौखला गए और उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी।जॉइंट टीम के द्वारा आतंकियों की गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया गया, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जॉइंट टीम और आतंकियों के बीच हुई फायरिंग की पुष्टि की है। सूत्रों के मुताबिक, दो से तीन आतंकी यहां छिपे हुए हैं। आतंकी और सुरक्षाबलों के बीच अभी भी फायरिंग हो रही है।

वहीं दूसरी ओर, बारामुला में नाका चेकिंग के दौरान पुलिस ने सोमवार को ही एक ओवर ग्राउंड वर्कर को गिरफ्तार किया था। उसके पास से एक ग्रेनेड व असाल्ट राइफल के कारतूस मिले थे। पकड़े गए व्यक्ति की पहचान ताहिर अहमद खेश निवासी बडगाम के रूप में हुई थी। वह हिजबुल मुजाहिदीन के लिए काम कर रहा था।

जानकारी हो कि इससे पहले 5 जुलाई को पुलमामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) पर आतंकियों ने हमला किया था सीआरपीएफ के काफिले को IED ब्लास्ट के जरिये निशाना बनाया गया था, ब्लास्ट के बाद आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर फायरिंग की हमले के बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई थी।

इससे पहले अज्ञात आतंकियों ने डेलिना पुलिस पोस्ट पर सोमवार शाम को ग्रेनेड फेंका था। आतंकियों ने जो ग्रेनेड फेंका था, वह बाहर ही फट गया था और कोई नुकसान नहीं हुआ। इस हमले के बाद पुलिस ने पूरे इलाके को सील कर दिया था। सुरक्षा और कड़ी कर दी गई और हर जगह हमलावरों की तलाश की जा रही थी। हमला किसने किया यह अभी तक पता नहीं चल पाया है।

ADVERTISEMENT