राहुल के 'सरेंडर मोदी' वाले बयान पर बीजेपी का पलटवार- सारी मर्यादा तोड़ रहे हैं


कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. गलवान संकट को लेकर राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी वास्तव में सरेंडर मोदी हैं. भारतीय जनता पार्टी ने राहुल के इस बयान पर पलटवार किया है. साथ ही राहुल गांधी इस ट्वीट पर सरेंडर की स्पेलिंग को लेकर फंस गए क्योंकि सरेंडर की स्पेलिंग गलत लिखी गई थी.

बहरहाल, राहुल गांधी की टिप्पणी पर बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा कि राहुल जिस भाषा का इस्तेमाल वो कर रहे हैं ऐसा दुश्मन देश के नेता भी नहीं कर रहे. उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए. बीजेपी ने कहा कि राहुल गांधी सारी मर्यादा तोड़ रहे हैं.

बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री मोदी के लिए जिन शब्दों का इस्तेमाल राहुल गांधी कर रहे हैं, वैसे अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल दुश्मन देश का नेता भी भारत के प्रधानमंत्री के लिए नहीं करता. लेकिन राहुल गांधी लगातार 'प्रधानमंत्री' और 'देश' दोनों का अपमान करते जा रहे हैं.

वहीं जम्मू-कश्मीर के बीजेपी चीफ रविंदर रैना ने भी राहुल गांधी को पीएम मोदी, "सरेंडर मोदी" कहने को लेकर पलटवार किया. रविंदर रैना ने गांधी-नेहरू परिवार पर हमला करते कहा कि राहुल गांधी के पूर्वजों ने चीन के सामने आत्मसमर्पण किया और राष्ट्र को पीछे कर दिया.

इस बीच, कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी की टिप्पणी का बचाव करते हुए नजर आई. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने राहुल गांधी का बचाव किया और मोदी सरकार पर गलवाना घाटी की स्थिति से निपटने में नाकाम बताया.

बता दें कि लद्दाख में LAC पर चीनी सेना से हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के मसले पर राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ हमलावर हैं. राहुल गांधी सैनिकों की शहादतों को लेकर लगातार केंद्र सरकार से सवाल कर रहे हैं.

राहुल गांधी ने गलवान में हिंसक झड़प के मसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक के बाद दिए बयान पर भी सवाल खड़ा किया था. असल में, पीएम मोदी ने कहा था न तो कोई हमारी सीमा में घुसा हुआ है और न ही हमारी कोई पोस्ट किसी दूसरे के कब्जे में है. लद्दाख में हमारे 20 जांबाज शहीद हुए, लेकिन जिन्होंने भारत माता की तरफ आंख उठाकर देखा था, उन्हें वो सबक सिखाकर गए.

प्रधानमंत्री मोदी के इसी बयान पर राहुल गांधी ने सवाल किया था और पूछा था कि अगर वह जमीन चीन की थी, जहां भारतीय जवान शहीद हुए तो हमारे सैनिकों को क्यों मारा गया? उन्हें कहां मारा गया?

ADVERTISEMENT