About Me

header ads

कोरोना का कहरः ईरान ने 70 हजार कैदियों को किया रिहा


चीन के बाद इटली और ईरान में कोरोना वायरस सबसे ज्यादा कहर बरपा रहा है. चीन के बाद बड़ी संख्या में इन्हीं दो देशों में सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. वायरस के प्रकोप को देखते हुए ईरान ने करीब 70 हजार कैदियों को रिहा कर दिया है.

ईरान की न्यायिक व्यवस्था से जुड़ी एक वेबसाइट ने ईरानी न्यायिक चीफ इब्राहिम रईसी के हवाले से सोमवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि करीब 70 हजार कैदियों को रिहा कर दिया गया. इब्राहिम रईसी ने कहा कि कैदियों की रिहाई के दौरान इस बात का ध्यान रखा गया कि इससे समाज में असुरक्षा पैदा नहीं होगी.

हालांकि न्यायिक प्रमुख इब्राहिम रईसी ने यह साफ नहीं किया कि रिहा हुए कैदियों को कब तक वापस जेल आना होगा.

कोरोना वायरस के कारण सोमवार को ईरान में और 49 लोगों की मौत हो गई. अब तक कोविड-19 से ईरान में मरने वालों की संख्या 194 तक पहुंच गई है.

दूसरे स्थान पर पहुंचा इटली

दूसरी ओर इटली रविवार को कोरोना वायरस से मौत के मामले में दुनिया में दूसरे स्थान पर पहुंच गया. इटली से ज्यादा मौत चीन में हुई है. इटली की नागरिक सुरक्षा एजेंसी के अनुसार, हार्डबोन लोम्बार्डी क्षेत्र में अधिकांश मौतें सामने आई हैं, जहां संख्या लगभग 3 गुना बढ़ गई है. रविवार को यह संख्या 133 से बढ़कर 366 तक पहुंच गई.

इटली में चीन के बाहर अब तक सबसे ज्यादा मौतें दर्ज की गई हैं. यहां एक दिन में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों की संख्या 1,492 से बढ़कर 7,375 पर पहुंच गई है. दक्षिण कोरिया में वर्तमान में 7,313 मामले सामने आए हैं और वहां रविवार को संक्रमण की दर भी धीमी दर्ज की गई.

इटली की नागरिक सुरक्षा एजेंसी प्रमुख एंजेलो बोरेली ने कहा कि कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए 220 लाख सर्जिकल मास्क का ऑर्डर दिया जा रहा है.

पाकिस्तान में सातवां केस

दूसरी ओर, पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमण का सातवां मामला सामने आया है. नए मामले में कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति कराची का निवासी है. नेशनल हेल्थ सर्विस में प्रधानमंत्री के विशेष सहायक जफर मिर्जा ने रविवार को कहा कि पाकिस्तान में यहां सातवें मामले की पुष्टि हुई है जबकि पूर्व के मामले में मरीज को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दी जा चुकी है और अन्य एक मामले में व्यक्ति घर जाने के लिए तैयार है.