बिहार में हादसों की होली: पटना के मौर्या लोक में भीषण आग, नालंदा में सात महादलितों के घर राख


होली की सुबह बिहार के पटना व नालंदा में अगलगी के दो बड़े हादसे हुए। राजधानी के मौर्यालोक (Maurya Lok) में आग से बड़ा नुकसान हुआ. उधर, नालंदा के बिहारशरीफ की एक महादलित बस्‍ती (Mahadalit Basti) में आग से सात गरीबाें के घर राख (Huts gutted) हो गए.

पटना के मौर्यालोक में लगी आग, आधा दर्जन कारें व कई बाइक राख

पटना के मॉर्या लोक परिसर के पास एक गोदाम (Godown) में होली की सुबह अचानक आग लग गई। लपटें देखते-देखते तेज हो गईं. मौके पर फार ब्रिगेड (Fire Brigade) की टीम पहुंची, लेकिन तब तक आधा दर्जन कारें व कई बाइक जल चुकी थीं. अगलगी के कारण मॉर्यालोक परिसर में अफरा-तफरी का माहौल दिखा. आग के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है.

आग को देख पहले स्‍थानीय लोगों ने बुझाने की कोशिश की. इसके बाद फायर ब्रिगेड की केवल एक गाड़ी पहुंची. फिर बाद में और गाडि़यां भी आईं. बताया जाता है कि आग बुझाने के दौरान फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी का नोजल खराब हो गया. हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी.

नालंदा की जले महादलितों के सात घर, होली में पसरा मातम

उधर, नालंदा जिला मुख्‍यालय स्थित दीपनगर थाना क्षेत्र के कोसुत पुल के समीप महादलित बस्ती में सोमवार की देर रात अचानक  आग लग गई। दुर्घटना में महादलितों के सात फूस के घर राख हो गए। सूचना पर फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. इसके बाद डीएसपी की पहल पर जीवन रक्षक टीम के सदस्यों ने पीड़ित परिवारों के लिए कपड़े की व्यवस्था की. पुलिस का मानना है कि आग खाना बनाने के दौरान लगी.

देर रात की अगलगी ने महादलितों की होली को बदरंग कर दिया। बस्‍ती में मातम पसरा है. लोगों को अब सरकार व प्रशासन से राहत (Relief) का इंतजार है.