About Me

header ads

प्रतिमा विसर्जन के दौरान शेखपुरा में जदयू नेता के बाद अब युवक की हत्‍या, रिलेटिव गंभीर स्थिति में पटना रेफर


सरस्‍वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान मारपीट का मामला थम नहीं रहा है. कहीं दो गुटों में तो कहीं एक ही समुदाय के बीच हिंसक मारपीट हो रही है. भागलपुर का मामला अभी ठीक से थमा भी नहीं है कि अब शेखपुरा में नया मामला सामने आया है.बिहार के शेखपुरा स्थित मणिपुर गांव में प्रतिमा विसर्जन के दौरान डीजे बजाने को लेकर हुई झड़प हिंसक मारपीट में बदल गयी। इस दौरान हुई फायरिंग में जहां भतीजे की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं चाचा को पटना रेफर किया गया ह. बता दें कि शेखपुरा में दो दिन पहले जदयू नेता की हत्‍या कर दी गई थी.यह मामला भी प्रतिमा विसर्जन को लेकर ही हुआ था.

शेखपुरा के सनैया गांव में जदयू नेता नंदकिशोर कुशवाहा उर्फ अमित विश्वास की हत्या के बाद एक और घटना में 19 साल के युवक पंकज कुमार की गोली लगने से मौत हो गई.घटना में पंकज के चाचा सरोज पंडित (27) जख्मी हो गये। उसे पटना रेफर किया गया है. टना अरियरी थाना के सहायक थाना कसार के मणिपुर गांव में रविवार की देर रात हुई.

यहां बताना जरूरी है कि शनिवार को सनैया तथा रविवार को मणिपुर में हुई हत्या की घटनाएं सरस्वती पूजा के विसर्जन जुलूस में हुए विवाद का परिणाम हैं.मणिपुर में हुई हत्या के मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति धीरेन्द्र पटेल को गिरफ्तार किया गया है.इस संबंध में धीरेन्द्र सहित दो अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई.

पुलिस ने बताया कि रविवार की रात हुई घटना के पहले शाम को सरोज पंडित तथा धीरेन्द्र पटेल के बीच डीजे को लेकर विवाद हुआ था.रात में जब विसर्जन जुलूस निकाला गया तो भीड़ में किसी ने गोली चला दी, जिससे पंकज की मौत हो गई.पंकज के चाचा सरोज पंडित को गंभीर अवस्था में सदर अस्पताल लाया गया.देर रात ही उसे पटना रेफर कर दिया गया.विसर्जन जुलूस में गोली-बारी के बाद भगदड़ मच गई। बाद में पुलिस ने किसी तरह प्रतिमा का विसर्जन कराया.