About Me

header ads

Delhi Election 2020: वोट देने आ रहे लोगों को मुफ्त में टिकट दे रही है स्पाइसजेट


यदि आप दिल्ली के निवासी हैं, दिल्ली से बाहर रहते हैं और वोट डालने के लिए अपने शहर जाना चाहते हैं तो एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट आपके लिए खास ऑफर लेकर आई है.स्पाइसजेट ने  स्पाइसडेमोक्रेसी (SpiceDemocracy)  अभियान की शुरुआत की ह. जो कि 30 जनवरी से 8 फरवरी तक ह. एयरलाइन कंपनी ने दावा किया है कि इससे कई लोगों को फायदा मिलेग. जो अपने घर से दूसरी जगह रह रहे हैं। बता दें कि दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव है.

स्पाइसजेट ने सोमवार को कहा कि वह 8 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव में वोट डालने जा रहे कुछ लोगों को ‘फ्री टिकट’ देग. कंपनी का कहना है कि इन यात्रियों को बेस किराया नहीं देना होगा, उन्हें सिर्फ कर और अन्य उपकर देने होंगे। कंपनी ने स्पष्ट किया है कि लोगों को इन टिकटों के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा और उनका चुनाव कंपनी का आंतरिक पैनल करेग.

चुने गए यात्रियों को सभी कर, उपकर, लेवी और अन्य शुल्क देने होंग. ‘स्पाइसडेमोक्रेसी’ के तहत कंपनी ने कहा कि अगर कोई आठ फरवरी को ही दिल्ली जा रहा है और उसी दिन लौट रहा है तो वह दोनों टिकटों पर लगी बेस किराए की राशि वापस कर देग.

वहीं, अगर कोई सात फरवरी को जाकर आठ फरवरी को लौट रहा है या आठ फरवरी को जाकर नौ फरवरी को लौट रहा है तो उसके एक ओर की टिकट का बेस किराया माफ कर दिया गय. इसके लिए लोग पांच फरवरी तक ऑनलाइन पंजीकरण करा सकेंगे। चुने गए यात्रियों को छह फरवरी को सूचना दे दी जाएग.

देश की राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को मतदान होगा और 11 फरवरी को नतीजे आएंग. दिल्ली की सभी 70 सीटों पर वोटिंग होग. इसके लिए कुल 13757 पोलिंग बूथ बनाए जाएंग.

ऐसे मिलेगा ऑफर का लाभ

कंपनी का कहना है कि अगर आप वोट डालने के लिए दिल्ली यात्रा पर जा रहे हैं तो आपको कंपनी की वेबसाइट में रजिस्टर करना होग. साथ ही सोशल साइट पर वोटिंग करने के लिए प्रेरित करना होग. इसके बाद अगर आपका नाम शार्टलिस्ट किया गया तो फिर आपको कंपनी का ऑफर मिलेग. हालांकि, एयरलाइन केवल हवाई टिकट का बेस किराया ही देग. बाकी सभी टैक्स का भुगतान खुद करना होग. जिसमें सरचार्ज, लेवी और बाकी दूसरी लागत शामिल है.

दिल्ली चुनाव में मिलेगा अवकाश

वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने दिल्ली में विधानसभा चुनाव को देखते हुए आठ फरवरी को प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में कार्यरत मतदाताओं को मतदान करने के लिए अवकाश दे दिया ह. प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन जितेन्द्र कुमार ने सोमवार को इसके आदेश जारी किए गए है. इसमें कहा गया है कि दिल्ली मतदान के दिन उन मतदाताओं को जिनमें उत्तर प्रदेश के दैनिक श्रमिक भी शामिल हैं तथा जो आजीविका के संबंध में प्रदेश में कार्यरत हैं, को सवैतनिक अवकाश मंजूर होगा.