अमेरिकी इतिहास में मुझसे बुरा बर्ताव किसी राष्ट्रपति से नहीं हुआ: ट्रंप


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि 'अमेरिका के इतिहास में कोई ऐसा राष्ट्रपति नहीं है, जिसके साथ इतना बुरा बर्ताव किया गया हो. डेमोक्रेटिक पार्टी के लोग नफरत और भय से भरे हुए हैं. हालांकि ये कुछ कर नहीं पा रहे हैं. ऐसा बुरा बर्ताव किसी दूसरे राष्ट्रपति के साथ करने की इजाजत कभी नहीं दी जानी चाहिए.'

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का यह बयान उस समय सामने आया है, जब उनके खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया औपचारिक तौर पर शुरू की गई है. अभी तक अमेरिका के किसी भी राष्ट्रपति को महाभियोग से नहीं हटाया गया है.

इससे पहले अमेरिकी संसद के निचले सदन यानी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैन्सी पलोसी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया शुरू करने का ऐलान किया. हालांकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद कम ही है.

अगर महाभियोग की प्रक्रिया निचले सदन में पूरी हो भी जाती है, तो इसका रिपब्लिकन के बहुमत वाले सीनेट से पास होना मुश्किल है. अमेरिकी संसद के उच्च सदन सीनेट में ट्रंप की पार्टी रिपब्लिकन का दबदबा है. लिहाजा ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाएगी.

ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने अपने डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाईडन और उनके बेटे के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच शुरू करने के लिए यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर जेलेंस्की पर दबाव बनाया है. हालांकि डोनाल्ड ट्रंप ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है.

आपको बता दें कि पूर्व उप राष्ट्रपति जो बाईडन साल 2020 में अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप को चुनौती दे सकते हैं. बताया जा रहा है कि ट्रंप ने यह स्वीकार किया है कि उन्होंने यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की से बाईडन के संबंध में चर्चा की थी. हालांकि ट्रंप ने पूर्व अमेरिकी उपराष्ट्रपति बाईडन और उनके बेटे के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच के लिए यूक्रेन पर दबाव बनाने की बात से इनकार किया है.