WFI के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह ने गोंडा के नंदिनी नगर स्टेडियम में शुरू हुए कुश्ती टूर्नामेंट का उद्घाटन किया. यह सब उस घोषणा के एक दिन बाद हुआ है, जिसमें खेलमंत्री ने उन्हें अपना पद छोड़ने को कहा था



Wrestlers Protest: भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह, जिन पर महिला पहलवानों के यौन उत्पीड़न व डराने-धमकाने के आरोप हैं..उन्‍हें जांच समिति द्वारा अपनी रिपोर्ट सौंपने तक पद छोड़ने के लिए कहा गया है, मगर इसके बावजूद बृजभूषण शनिवार (21 जनवरी) को उत्तर प्रदेश के गोंडा में हो रही एक बड़ी कुश्ती प्रतियोगिता कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बने.




बता दें कि बृजभूषण सिंह उत्तर प्रदेश के कैसरगंज के लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी के सांसद भी हैं. अब तक वह 6 बार सांसद चुने जा चुके हैं. क्‍योंकि वह WFI के चीफ हैं और उन पर महिला पहलवानों के यौन उत्पीड़न व डराने-धमकाने के आरोप हैं तो भूषण के खिलाफ देश के 200 से ज्‍यादा पहलवान तीन दिनों से दिल्‍ली में जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं. पहलवानों का साफ कहना है कि बृजभूषण सिंह को WFI से हटाया जाए और इकाई को भी भंग कर दिया जाए. मगर, बृजभूषण सिंह ने इस्‍तीफा देने से इनकार कर दिया.



पद छोड़ने के बजाए मुख्‍य अतिथि बने भूषण

आज, शनिवार को बृजभूषण सिंह ने गोंडा के नंदिनी नगर स्टेडियम में शुरू हुए सीनियर नेशनल सीनियर ओपन नेशनल रैंकिंग टूर्नामेंट का उद्घाटन किया. मंच पर ले जाने से पहले अधिकारियों ने उनका स्वागत किया और माल्यार्पण भी किया. बृजभूषण वहां चल रहे मैचों को देखते हुए नजर आए.



यह सब केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा यह घोषणा किए जाने के एक दिन बाद हुआ है कि सात सदस्यीय निगरानी समिति बृजभूषण सिंह के खिलाफ लगाए गए यौन उत्पीड़न और वित्तीय गबन के आरोपों की जांच करेगी.



इधर, राष्ट्रीय राजधानी में जंतर मंतर पर विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक सहित देश के प्रमुख पहलवान तीन दिवसीय धरने पर हैं. कल शाम खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने पहलवानों की मौजूदगी में अपने आवास पर आश्वासन दिया था कि चार सप्ताह में न्याय होगा.



खेलमंत्री ने कहा था- बृजभूषण जिम्‍मेदारियों से मुक्‍त होंगे

ठाकुर ने यह भी कहा कि बृजभूषण शरण सिंह जांच समाप्त होने तक WFI प्रमुख के पद से हट जाएंगे और उस समिति के साथ सहयोग करेंगे जो महासंघ के पूरे दिन के कामकाज को देखेगी. मंत्री ने कहा कि जांच समिति चार सप्ताह में अपनी रिपोर्ट देगी. ठाकुर जब यह बात कह रहे थे तो वहां पहलवान साक्षी मलिक, बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, रवि दहिया और अन्य खिलाड़ी मौजूद थे.