पीएम मोदी की आलोचना वाला ट्वीट हुआ डिलीट तो भड़के TMC नेता डेरेक ओ ब्रायन, कही ये बात

टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है पीएम मोदी को एक्सपोज करने वाली बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर उनका एक ट्वीट डिलीट कर दिया गया है



तृणमूल कांग्रेस सांसद डेरेक ओ ब्रायन  ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का असली चेहरा बताने वाला उनका ट्वीट डिलीट कर दिया गया है. टीएमसी नेता के मुताबिक, उनका ट्वीट बीबीसी की एक डॉक्यूमेंट्री को लेकर था, जो अल्पसंख्यकों के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रुख उजागर करती है. जानकारी के मुताबिक, ट्विटर इंडिया ने सरकार की ओर से शिकायत मिलने के बाद ब्रायन के ट्वीट पर ऐसा कदम उठाया है. ब्रायन के ट्वीट पर यह कार्रवाई केवल भारत की परिधि के अंतर्गत की गई है, देश के बाहर बाकी जगहों पर उनके ट्वीट पर कोई प्रतिबंध नहीं है.




माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर से प्राप्त हुए एक ई-मेल का स्क्रीनशॉट भी डेरेक ओ ब्रायन ने एक अन्य ट्वीट में साझा किया है, जिसमें कहा गया है कि भारत सरकार के निवेदन पर ट्वीट हटाया गया है. मेल में ब्रायन के ट्वीट को भारत में कानून का उल्लंघन करने वाला बताया गया है. ब्रायन ने इस कदम को 'सेंसरशिप' करार दिया है.





'डिलीट करने का फिल्मी कारण दिया गया'

शनिवार (21 जनवरी) को सुबह 11:01 बजे टीएमसी नेता ब्रायन ने कुछ स्क्रीनशॉट्स साझा करते हुए और बड़े-बड़े अक्षरों में 'सेंसरशिप' (CENSORSHIP) लिखते हुए एक ट्वीट किया, जिसमें लिखा, ''सेंसरशिप, ट्विटर और ट्विटर इंडिया ने बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर मेरे ट्वीट को हटा दिया है, इसे लाखों बार देखा गया था. एक घंटे की बीबीसी डॉक्यूमेंट्री उजागर करती है कि कैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अल्पसंख्यकों से नफरत करते हैं. यहां पर मुझे प्राप्त हुआ मेल है, जो फिल्मी कारण दिया गया है वो भी देखिये. विपक्ष अच्छी लड़ाई लड़ना जारी रखेगा.