क्या बीजेपी राम मंदिर से भटक गई?'

गठबंधन के लिए अपने एजेंडे को छोड़ने के सवाल पर प्रद्योत माणिक्य देब बर्मन ने कहा, "क्या बीजेपी राम मंदिर से भटक गई?



 त्रिपुरा विधानसभा चुनाव का ऐलान होने के बाद सभी दल अपनी-अपनी रणनीति बनाने में जुटे हैं. इस चुनाव में प्रद्योत माणिक्य देब बर्मन की पार्टी टिपोर मोथा ने मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है. आगामी चुनाव को लेकर वह काफी आश्वास्त नजर आ रहे हैं. उनका कहना है कि उनकी पार्टी बेहतर प्रदर्शन करेगी. इस दौरान उन्होंने 'ग्रेटर टिपरालैंड' की अपनी मांग से कोई समझौता नहीं करने की बात कही



उन्होंने कहा कि इस विचारधारा को छोड़कर किसी से कोई गठबंधन नहीं किया जाएगा. आने वाले समय में बीजेपी से गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा, "आदिवासियों के लिए अलग राज्य बनाने की विचारधारा से समझौता नहीं होगा. उन्होंने कहा, "क्या बीजेपी राम मंदिर से भटक गई? वे भी टीएमसी, चंद्रबाबू नायडू, अकाली दल के साथ थे.' 





टिपरा मोथा की तुलना बीजेपी से की

आदिवासियों के लिए अलग राज्य की मांग पर बोले टिपरा मोथा प्रमुख ने कहा, "बीजेपी ने महबूबा मुफ्ती के साथ गठबंधन किया, उसके बाद भी आर्टिकल 370 पर अपने स्टैंड से नहीं हटे. तो मैं अपनी मूल विचारधारा से क्यों हटूं?" उन्होंने कहा, "मैं अपनी विचारधारा पर अडिग हूं. भारत सभी समुदायों के लिए एक धर्मनिरपेक्ष राज्य है लेकिन हम बिना समझौता किए और अपने लोगों का दिल तोड़े बिना लड़ेंगे.