जदयू विधायक ने करा दी थी मेरे पति की हत्‍या, जनता दरबार में सीएम नीतीश कुमार से बोली महिला

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) आज (सोमवार) पुलिस व जमीन से जुड़े मामलों की शिकायतें सुन रहे हैं। कारा, मद्य निषेध उत्पाद एवं निबंधन विभाग, निगरानी विभाग, खान एवं भूतत्व विभाग तथा सामान्य प्रशासन विभाग से जुड़ी शिकायतें भी सुनी जा रही हैं। जनता दरबार में आई एक महिला ने वाल्मीकिनगर के जदयू विधायक (JDU MLA) पर हत्‍या का आरोप लगाते हुए पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। सीएम ने इस मामले की जांच करने का निर्देश डीजीपी को दिया है। 

इस वर्ष फरवरी में हुई थी दयानंद वर्मा की हत्‍या 

पश्चिमी चंपारण के वाल्‍मिकीनगर से आई कुमोद वर्मा ने आरोप लगाया कि 14 फरवरी को उनके पति की हत्‍या वहां के विधायक रिंकू सिंह ने करवा दी। लेकिन पुलिस मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। जबकि रिंकू सिंह व उनके साथियों के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी। उनके पति पूर्व जिला पार्षद दयानंद वर्मा की हत्‍या मामले में जदयू विधायक धीरेंद्र प्रताप उर्फ रिंकू सिंह, शकील तथा बबलू के अलावा अन्‍य लोगों को आरोपित किया गया था। अपनी पार्टी के विधायक पर लगे आरोपों को सुनकर सीएम ने महिला को डीजीपी के पास भेज दिया। कहा कि इन्‍हें डीजीपी के पास ले जाइए। सारे मामले वे खुद देखेंगे।  

पति से विवाद के बाद दिया था घटना को अंजाम 

बता दें कि दयानंद वर्मा की हत्‍या पश्चिमी चंपारण के नौरंगिया थाने के सिरिसिया चौक के पास कर दी गई थी। इस बाबत उनकी पत्‍नी कुमोद वर्मा ने हत्‍या की जो प्राथमिकी दर्ज कराई थी उसमें आरोप लगाया था कि उनके पति दयानंद वर्मा और शकील मियां के बीच कुछ विवाद हुआ था। तब शकील ने उनके पति को मारने की धमकी दी थी। इसके बाद वह 14 फरवरी को विधायक रिंकू सिंह समेत अन्‍य के साथ पहुंचा और पति को गोली मार दी। गंभीर हालत में उन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो गई थी।