Cyclone Gulab: चक्रवात तूफान के आज शाम तक आंध्र और ओडिशा पहुंचने की है संभावना, पीएम मोदी ने ली स्थिति की जानकारी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने रविवार सुबह उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में 'चक्रवात गुलाब' के आने के बाद ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटों लिए रेड अलर्ट जारी किया है। चक्रवाती तूफान 'गुलाब' उत्तर पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी से होकर जाएगा। चक्रवात की चेतावनी और उत्तर आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा तटों के लिए जारी की गईं हैं। आइएमडी ने बताया कि चक्रवात गुलाब के रविवार की आधी रात के आसपास उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तटों को पार करने की उम्मीद है।

पीएम मोदी ने आंध्र प्रदेश के सीएम से ली स्थिति की जानकारी

चक्रवात तूफान से उत्पन्न स्थिति की जानकारी के लिए लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी से बात की है। पीएम ने ट्वीट कर कहा कि केंद्र से हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है। मैं सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।

वहीं, ओडिशा सरकार ने बचाव दल को संवेदनशील इलाकों में भेजा है। इसके साथ ही लोगों को निचले इलाकों से निकालने के लिए आदेश जारी किया है। ओडिशा डिजास्टर रैपिड एक्शन फोर्स (ODRAF) की 42 टीमों और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के 24 दस्तों को दमकल कर्मियों के साथ सात जिलों- गजपति, गंजम, रायगडा, कोरापुट, मलकानगिरी, नबरंरपुर और कंधमाल में भेजा गया है।

NDRF की आठ टीमें आपातकालीन स्थिति  के लिए रखी गईं रिजर्व में

एक अधिकारी ने बताया कि चक्रवाती तूफान से गंजम के गंभीर रूप से प्रभावित होने की आशंका है और अकेले उस क्षेत्र में 15 बचाव दल तैनात किए गए हैं। इसके अलावा, 11 अग्निशमन इकाइयां, ODRAF की छह टीमें और NDRF की आठ टीमें आपातकालीन उद्देश्यों के लिए रिजर्व में रखी गई हैं।

सरकारी अधिकारियों की रद हुईं छुट्टियां

गजपति और कोरापुट के जिला प्रशासन ने सरकारी कर्मचारियों की 25 और 26 सितंबर को छुट्टियां और छुट्टियां रद कर दी हैं। कलेक्टरों ने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए अपने-अपने मुख्यालय पर डटे रहने का निर्देश दिया है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार बंगाल की खाड़ी के उत्तर और उससे सटे मध्य में बना एक गहरा दबाव 14 किमी प्रति घंटे की गति से पश्चिम की ओर बढ़ रहा है।