Kolkata Rains: बंगाल में भारी बारिश के कारण जल जमाव, करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों समेत चार की मौत

बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में मंगलवार को करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों समेत चार लोगों की मौत हो गयी । राज्य में मंगलवार को भारी बारिश के कारण हर तरफ जल जमाव हो गया । एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि टीटागढ़ में ट्यूशन से अपने घर लौटते समय करंट लगने से 15 साल के एक किशोर की मौत हो गयी। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि खरदा में एक सरकारी आवासीय परिसर में एक व्यक्ति, उसकी पत्नी और बेटे की मौत हो गई।

अधिकारी ने कहा कि व्यक्ति के फ्लैट का जलमग्न फर्श कहीं से बिजली के तारों के संपर्क में था, जिसकी चपेट में आने के बाद उसकी मौत हो गयी जबकि उसे बचाने के प्रयास में उसकी पत्नी और बेटे की भी मौत हो गयी । उन्होंने बताया कि केवल चार साल का छोटा बेटा इस घटना में बाल-बाल बच गया। उसने चिल्लाकर पड़ोसियों से मदद मांगी, जिन्होंने तीनों को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गौरतलब है कि कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के विभिन्न जिलों में बारिश का दौर मंगलवार को भी जारी रहा, हालांकि सोमवार की अपेक्षा कम पानी बरसा। सबसे ज्यादा परेशानी जलजमाव से हो रही है। अलीपुर मौसम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कोलकाता में रविवार रात से मंगलवार सुबह तक 160.2 मिलीमीटर (मिमी) पानी बरस चुका है। इससे पहले 25 सितंबर, 2007 को महानगर में 174.4 मिमी बारिश हुई थी। बारिश की वजह से तापमान कई डिग्री उतर आया है।

बारिश का सामान्य जनजीवन पर भारी असर

कोलकाता में मंगलवार को अधिकतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से सात डिग्री कम है, वहीं न्यूनतम तापमान भी 24.4 डिग्री सेल्सियस पर सामान्य से दो डिग्री नीचे रहा। कोलकाता के अलीपुर, कसबा, बेहला, सेंट्रल एवेन्यू जादवपुर, मोमिनपुर, कसबा समेत विभिन्न इलाके पानी में डूबे हुए हैं। बारिश का सामान्य जनजीवन पर भारी असर पड़ा है। कोलकाता, हावड़ा, हुगली, उत्तर व दक्षिण 24 परगना जिलों में सबसे ज्यादा बारिश हुई है। सोमवार सुबह 8.30 बजे तक कोलकाता में सबसे ज्यादा 142 मिमी बारिश दर्ज हुई थी, जिससे 13 साल का रिकार्ड टूट गया था। कोलकाता के उल्टाडांगा, धापा, सियालदह, बालीगंज, मोमिनपुर, कालीघाट व तपसिया इलाकों में रविवार रात एक बजे से सोमवार प्रातः पांच बजे तक 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश हुई थी। अलीपुर मौसम कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि दो 'साइक्लोनिक सर्कुलेशन के एक साथ उत्पन्न होने की वजह से बंगाल में इतनी बारिश हो रही है।