आज स्मार्ट सिटी मिशन, AMRUT और पीएम शहरी आवास योजना की छठी वर्षगांठ मनाएगी केंद्र सरकार

केंद्र सरकार आज स्मार्ट सिटीज मिशन, AMRUT और प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना की छठी वर्षगांठ मनाएगी। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों का मंत्रालय (MoHUA) तीन परिवर्तनकारी शहरी मिशनों जैसे स्मार्ट सिटीज मिशन (SCM), AMRUT और प्रधान मंत्री आवास योजना-शहरी (PMAY-U) के लॉन्च के 6 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में शुक्रवार को एक ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। इस सभी विकास योजनाओं को 25 जून, 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉन्च किया गया था।

पिछले 6 वर्षों के दौरान शहरी क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करने का अनुमान कुल 12 लाख करोड़ रुपये के निवेश से लगाया जा सकता है। इससे पहले 2004-2014 के बीच की अवधि में इन योजनाओं पर सिर्फ 1.5 लाख करोड़ खर्च हुए थे। इन तीन मिशनों के तहत कार्यान्वित परियोजनाओं ने भारत के शहरी निवासियों के जीवन में प्रत्यक्ष परिवर्तन लाना शुरू कर दिया है।

मिशनों ने न केवल शहरी बुनियादी ढांचे का विकास किया है, चाहे वह बेहतर जल आपूर्ति, स्वच्छता, सभी के लिए आवास हो, बल्कि हमारे शहरों की योजना और प्रबंधन में डेटा, प्रौद्योगिकी और नवाचार के उपयोग में भी अग्रणी रहा है। इन मिशनों ने कोविड-19 महामारी के दौरान महामारी की अनिश्चितता का सामना कर रहे लोगों के जीवन में सहायता प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

आज का कार्यक्रम केंद्रीय आवास और शहरी मामलों का मंत्रालय(MoHUA) द्वारा कार्यान्वित की जा रही कुछ महत्वपूर्ण पहलों को उजागर करेगा। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप एस पुरी करेंगे। दुर्गा शंकर मिश्रा, सचिव, आवास और शहरी मामलों ने केंद्र और राज्य सरकारों के सभी प्रमुख शहरी हितधारकों को इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है, जिसमें अन्य बातों के साथ-साथ राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के प्रधान सचिव, शहरों के नगर आयुक्त, स्मार्ट शहरों के एमडी / सीईओ, नोडल एजेंसियां/मिशन निदेशालय, उनके अधिकारियों और टीम के सदस्यों, पेशेवरों, उद्योग प्रतिनिधियों, मीडिया और शिक्षाविदों के सदस्यों शामिल हैं।