संयुक्त राष्ट्र में भारत ने इजरायल-फलस्तीन से जंग खत्म करने की अपील की, हिंसा भड़कने की जताई आशंका

इजरायल(Israel) और फलस्तीन (Palestine) के बीच जारी भीषण संघर्ष के बीच भारत ने दोनों देशों से जंग खत्म करने की अपील की है। इजरायल और फलस्तीन के बीच जारी जंग पर भारत का बयान सामने आया है। भारत ने चुप्पी तोड़ते हुए दोनों देशों से शांति बनाए रखने की अपील की है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की एक बैठक में इस मुद्दे पर अपना बयान जारी किया।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति (T S Tirumurti) ने भारत के विचार रखते हुए कहा कि हम दोनों देशों से यथास्थिति में एकतरफा बदलाव न करने की अपील करते हैं, दोनों को शांति व्यवस्था बनाए रखनी चाहिए। सुरक्षा परिषद की बैठक में भारत का पक्ष रखते हुए टीएस तिरुमूर्ति ने कहा कि हम दोनों पक्षों से अत्यधिक संयम दिखाने, तनाव बढ़ाने वाली कार्रवाइयों से बचने और पूर्वी यरुशलम और उसके आसपास में मौजूदा यथास्थिति को एकतरफा रूप से बदलने के प्रयासों से परहेज करने की अपील करते हैं। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी राजदूत टीएस तिरुमूर्ति((T S Tirumurti) ने इजरायल-हमास की लड़ाई के कारण पश्चिमी किनारे (वेस्ट बैंक) में भी हिंसा भड़कने की आशंका जताई है। सुरक्षा परिषद की बैठक में तिरमूर्ति ने कहा कि पूर्वी यरुशलम में शुरू हुई गाजा और पश्चिम किनारे के और भागों में भी फैलने की आशंका है। समय की मांग है कि यह लड़ाई फौरन रुकनी चाहिए नहीं तो हालात हाथ से निकल जाएंगे। 

भारतीय महिला की मौत पर भी बोला भारत

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में बोलते हुए गाजा पट्टी से इजरायल के रिहायशी इलाकों पर होने वाले हमलों की कड़ी निंदा की। टीएस तिरुमूर्ति ने कहा कि गाजा की तरफ से हुए गए हमलों में कई लोगों की मौत हुई है, जिसमें एक भारतीय महिला सौम्या संतोष (Soumya Santhosh) भी शामिल हैं।  टीएस तिरुमूर्ति  ने आगे कहा कि हम भारतीय महिला सहित इस हिंसा में जान गंवाने वाले सभी के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं और उम्मीद जताते हैं कि यह खूनी खेल अब बंद होगा।