भारत में आ सकती है तीसरी कोरोना वैक्सीन, 'स्पूतनिक V' के लिए एक्सपर्ट कमिटी की बैठक आज


भारत में कोविड-19 संक्रमण के तेजी से बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए तीसरे कोरोना वैक्सीन के आने की संभावना बन गई है। देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस के लिए कम पड़े वैक्सीन के स्टॉक को देखते हुए एक्सपर्ट कमिटी सोमवार को  स्पूतनिक  V (Sputnik V) के इमरजेंसी इस्तेमाल को लेकर बैठक करेगी। देश में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत जनवरी माह में हो गई और अब तक  कुल 10,45,28,565 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई जा चुकी है।  

बता दें कि अभी देश में दो कोविड-19 वैक्सीन विकसित किए गए हैं। इनमें से एक कोविशील्ड है और दूसरा कोवैक्सीन। साथ ही वहीं इस साल की तीसरी तिमाही के अंत तक पांच और वैक्सीन आने की खबर है। इनमें स्पूतनिक V, बायोलॉजिकल ई द्वारा विकसित  जॉनसन एंड जॉनसनवैक्सीन, सीरम इंडिया की  नोवावैक्स वैक्सीन, जायडस कैडिला वैक्सीन और भारत बायोटेक की इंट्रानसल वैक्सीन। 

दरअसल महाराष्ट्र, दिल्ली छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब, उत्तर प्रदेश समेत देश के अन्य राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी है। हालांकि प्रशासन की ओर से सख्ती और  एहतियात भरे  कदम उठाए जा रहे हैं। वीकेंड लॉकडाउन से लेकर नाइट कर्फ्यू समेत अनेकों पाबंदियों की शुरुआत हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में रविवार को 1,68,912 नए कोविड-19 के मामले आए और 904 संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं अभी देश में कुल 12,01,009 सक्रिय मामले हैं।