जल, जीवन हरियाली अभियान की रैंकिंग में नवादा जिला अव्‍वल, राज्‍यभर में मिला दूसरा स्थान

जल जीवन हरियाली अभियान के तहत मार्च महीने की रैंकिंग में नवादा जिले को बिहार राज्य में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है। जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने इसके लिए तमाम जिलेवासियों को बधाई दी है। डीडीसी वैभव चौधरी ने बताया कि नवादा जिले में जल जीवन हरियाली अभियान के विभिन्न अवयव अंतर्गत योजनाओं का क्रियान्वयन विभागीय दिशा निर्देश के अनुरूप सफलतापूर्वक कराया जा रहा है। जिसके चलते नवादा जिला को यह स्थान प्राप्त हो सका है। अब हम और उत्‍साह से इस कार्य को करें।

भूमिगत जलस्‍तर उठाने की दिशा में प्रभावी कार्य

गिरते भूमिगत जल स्तर (Ground Water level) को थाम कर ऊपर उठाने के लिए जिले में आहर, पइन का जीर्णोद्धार, तालाब निर्माण, सार्वजनिक चापाकल व कुआं के किनारे सोख्ता निर्माण, सरकारी भवनों की छतों में वर्षा जल संचयन तथा चेक डैम निर्माण की योजनाओं का कार्य शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत 257 अतिक्रमित जल संरचनाओं को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। लघु जल संसाधन विभाग द्वारा तालाब, पोखर से संबंधित 72 योजनाओं का जीर्णोद्धार किया गया है। मनरेगा से 106 योजनाओं का जीर्णोद्धार कराया गया है। जल, जीवन हरियाली अभियान अंतर्गत 6478 का जीर्णोद्धार कराया गया है।

तालाब, कुएं का संरक्षण और पौधारोपण में भी आगे

शहरी क्षेत्र में छह तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 195 कुएं का जीर्णोद्धार कराया गया है। मनरेगा के तहत 57 एवं वन विभाग के माध्यम से 864 नदियों एवं पहाड़ी क्षेत्रों में क्षेत्रों में एवं जल संचयन के अन्य संरचनाओं का निर्माण कराया गया है। मनरेगा से 158 निजी भूमि पर तालाब का निर्माण कराया। शिक्षा विभाग के माध्यम से 102 तथा मनरेगा एवं अन्य विभागों के माध्यम से 347 सरकारी भवनों पर वर्षा जल संचयन की योजनाओं को पूर्ण कराया गया है। पौधारोपण (Plantation) के तहत वन विभाग के माध्यम से एक 3131500 तथा मनरेगा से 145650 पौधारोपण कराया गया है।