पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने लगवाई चाइनीज कोरोना वैक्सीन, चीन से दान में मिला पांच लाख टीके

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज ली। इससे एक दिन पहले दक्षिण एशियाई देश को चीन से दान में कोरोनो वैक्सीन की पांच लाख डोज मिला है। सिनोफर्म वैक्सीन की दूसरी खेप पाकिस्तान के स्वास्थ्य अधिकारियों ने रावलपिंडी के नूर खान एयरबेस में प्राप्त की। देश में वर्तमान में उपलब्ध यह एकमात्र टीका है। इससे पहले, चीन ने 1 फरवरी को सिनोफार्म की 500,000 खुराक पाकिस्तान को दान की थी। इससे देश में एक दिन बाद टीकाकरण अभियान शुरू हुआ। इससे पहले राष्ट्रपति आरिफ अल्वी भी वैक्सीन लगवा चुके हैं। 

पाकिस्तान में अब तक 615,810 मामले सामने आ गए हैं। यहां 10 मार्च को आम जनता का टीकाकरण शुरू हुआ। 60 साल के ऊपर के लोगों का टीकाकरण हो रहा है। फरवरी की शुरुआत में स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीकाकरण  शुरू हुआ था। अल जज़ीरा के अनुसार, पाकिस्तान में टीकाकरण की गति धीमी रही है। लोग टीका लगवाने से कतरा रहे हैं। अधिकारियों के अनुसार पाकिस्तान को इस महीने एस्ट्राजेनेका के 2.8 मिलियन डोज मिलने वाला है। गावी फाउंडेशन यह वैक्सीन मुहैया कराने वाला है। सिनोफर्म और एस्ट्राजेनेकाके अलावा, पाकिस्तान ने रूस के स्पुतनिक और चीन के कैनसीनो बायोलॉजिक्स इंक (CanSinoBIO) के टीके को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है।

पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं

बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।  इसके चलते कई क्षेत्रों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। इस दौरान केवल खाने-पीने के सामान, दवा, मीट और दूध की दुकानें खुली रहेंगी। बाजार, शॉपिंग मॉल, कार्यालय और रेस्टोरेंट बंद रहेंगे। मामले बढ़ने के कारण अस्पतालों में मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ रही है। पाकिस्तान में ब्रिटेन का स्ट्रेन मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। देश में एक दिन में 3495 नए मामले सामने आए। छह दिसंबर के बाद नए मरीजों की यह सबसे ज्यादा संख्या है। 

ADVERTISEMENT