जीबीएम की वार्षिक शोध पत्रिका 'गरिमा' के संपादक मंडल का गठन


-प्रधानाचार्य-सह-पत्रिका के संरक्षक की अध्यक्षता व सभी फैकल्टीज की उपस्थिति में   सर्वसम्मति से संपन्न हुआ

युवा शक्ति संवाददाता

----------------------

गया। शहर में स्थित गौतम बुद्ध महिला महाविद्यालय, की वार्षिक शोध तथा रचनात्मक पत्रिका 'गरिमा' के लिए संपादक मंडल का गठन प्रधानाचार्य-सह-पत्रिका के संरक्षक प्रो• जावेद अशरफ की अध्यक्षता व सभी फैकल्टीज की उपस्थिति में बुधवार को आयोजित एक बैठक में सर्वसम्मति से संपन्न हुआ। गरिमा के प्रकाशन के लिए मुख्य संपादक (एडिटर-इन-चीफ) का दायित्व सर्वसम्मति से अंग्रेजी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ कुमारी रश्मि प्रियदर्शनी को दिया गया। सब-एडिटर्स के तौर पर कामकाज की जिम्मेदारी हिन्दी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ प्यारे मांझी तथा अंग्रेजी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ पूजा को सौंपी गयी। ‘गरिमा’ के लिए एक अडवाइजरी बोर्ड का भी गठन हुआ है, जिसके सम्मानित सदस्यों में प्रो उषा राय, प्रो किश्वर जहां बेगम, प्रो अफ्शां सुरैया, डॉ किरण बाला सहाय, डॉ निर्मला कुमारी, डॉ नूतन कुमारी, डॉ शगुफ्ता अंसारी तथा डॉ सहदेव बाउरी के नाम शामिल हैं। बतौर असोसिएट एडिटर्स विज्ञान विभाग से डॉ शिल्पी बनर्जी, डॉ बनिता कुमारी, डॉ फरहीन वज़ीरी तथा डॉ रुखसाना परवीन, अर्थशास्त्र विभाग से डॉ नगमा शादाब, इतिहास विभाग से डॉ अनामिका कुमारी, मनोविज्ञान विभाग से प्रीति शेखर, दर्शनशास्त्र विभाग से डॉ जया चौधरी, डॉ अमृता घोष, डॉ पूजा राय तथा गृहविज्ञान विभाग से डॉ दीपशिखा पांडे व डॉ प्रियंका कुमारी को भी जिम्मेदारियां सौंपी गयी हैं। प्राचार्य प्रो अशरफ के अनुसार, पत्रिका में स्तरीय शोध पत्रों को प्राथमिकता दी जाएगी। इसके प्रकाशन का मुख्य उद्देश्य छात्राओं की शोध-क्षमता तथा रचनात्मकता को प्रोत्साहित करना है। पत्रिका राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150 वीं वर्षगाँठ को समर्पित होगी। प्रधानाचार्य ने संपादक मंडल के सदस्यों से अनुरोध किया कि पत्रिका में ऐसे शोध पत्र और आलेखों को ही स्थान दें, जो लेखक-लेखिका की स्वलिखित व अप्रकाशित रचना हो।

ADVERTISEMENT