औरंगाबाद के गोह एसएचओ मनोज कुमार गिरफ्तार


-रंगे हाथों निगरानी ब्यूरों की टीम ने रिश्वत लेते पकड़ा

गया। मगध प्रमंडल के औरंगाबाद जिला के गोह थानाध्यक्ष मनोज कुमार को निगरानी की टीम ने घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। मनोज कुमार पर 30,000 हजार रुपया घूस लेने का आरोप है।

 जानकारी के अनुसार निगरानी ब्यूरों के अपर महानिदेशक सुनील कुमार झा से औरंगाबाद के एक वाहन मालिक ने मिलकर गोह थाना के थानाध्यक्ष मनोज कुमार पर ट्रक परिचालन कराने के लिए रिश्वत की मांग की गयी है। गिरिश कुमार औरंगाबाद के देवकुंड थाना के बंधवा गांव के निवासी है। इन्होंंने 30 दिसंबर 2020 को निगरानी ब्यूरो में थानाध्यक्ष मनोज कुमार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।शिकायत की सत्यता की जांच के बाद गुरुवार को कार्रवाई की गई।

एडीजी सुनील कुमार झा ने आरोप की सत्यता की जांच के लिए उपाधीक्षक सुरेन्द्र कुमार महवार के नेतृत्व में निगरानी टीम गठित की।आरोप के सत्यापन के बाद गुरुवार को निगरानी ब्यूरों की टीम के ट्रेप में थानाध्यक्ष मनोज कुमार आ गया। और उपाधीक्षक सुरेन्द्र कुमार महवार के नेतृत्व में रहे टीम के द्वारा थानाध्यक्ष मनोज कुमार को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया।निगरानी ब्यूरों के उपाधीक्षक सुरेन्द्र कुमार महवार ने बताया कि एसएचओ मनोज कुमार पर अपने थाना क्षेत्र में ओवर लोडेड वाहन संचालित करने के आरोप में झूठे केस में फंसाने के नाम पर वाहन मालिक से भय दिखा कर पैसा लेने का आरोप है।उन्होंने बताया कि थानाध्यक्ष को शुक्रवार को निगरानी अदालत में उपस्थापित कराया जाएगा। निगरानी ब्यूरों की टीम ट्रैप किए गए थानाध्यक्ष को अपने कब्जे में लेकर औरंगाबाद से पटना के लिए रवाना हो गई है।

ADVERTISEMENT