Bihar Election 2020: चुनावी रैलियों में बड़े नेताओं काे निशाना बना सकते आंतकी, PM मोदी की रैली में पहले हो चुका हमला

Bihar Election 2020 Terror Attack Alert: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर यह बड़ी खबर है। राज्‍य में वीआइपी नेताओं (VIP Politicians) के मूवमेंट के दौरान हमले (Terror Attack) की आशंका को देखते हुए पुलिस मुख्‍यालय (Police HQ) ने हाई अलर्ट (High Alert) जारी किया है। पुलिस मुख्‍यालय ने इससे संबंधित आदेश सभी रेंज आइजी, डीआइजी व जिलाें के एसपी को जारी कर दिया है। विदित हो कि बिहार में चुनाव प्रचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) एवं उत्‍तर प्रदेश (UP) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) सहित कई हाई प्रोफाइल नेता आने वाले हैं। सरकार उनकी सुरक्षा को लेकर पहले से गंभीर हो गई है। खास बात यह भी है कि कुछ साल पहले पटना के गांधी मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक चुनावी रैली के दौरान सीरियल ब्‍लास्‍ट हो चुका है।

वीआइपी नेताओं पर हमले की आशंका

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस मुख्‍यालय को बिहार चुनाव के दौरान आने वाले वीआइपी नेताओं पर हमले की आशंका है। इस बाबत विशेष जानकारी देने से पुलिस ने इनकार किया है। हालांकि, पुलिस मुख्‍यालय के निर्देशानुसार सुरक्षा व्‍यवस्‍था की नए सिरे से समीक्षा की जा रही है।

बिहार आ रहे पीएम मोदी व राहुल गांधी

चुनाव प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिहार में 12 चुनावी रैलियां होने वाली हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी छह रैलियां करने वाले हैं। दोनों की पहली रैलियां 23 अक्‍टूबर को हैं। गृहमंत्री अमित शाह, उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ तथा कांग्रेस की प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी बिहार आने वाले हाई प्रोफाइल नेताओं में शामिल हैं। बताया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar), उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) तथा नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) की जनसभाओं में भी सुरक्षा कड़ी की जा रही है।

पीएम मोदी की रैली के दौरान पहले हो चुका हमला

विदित हो कि बीते 2014 के लोक सभा चुनाव के प्रचार के दाैरान पटना के गांधी मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान रैली स्‍थल के आसपास सीरियल बम ब्‍लास्‍ट (Gandhi Maidan Serial Blast) हुए थे। तब नरेंद्र मोदी ने सूझबूझ का परिचय देते हुए लोगों से अपील कर भगदड़ को बड़ी संख्‍या में मौतों को टाल दिया था।


ADVERTISEMENT