महाराष्ट्र के गृह मंत्री का बयान, बिहार चुनाव की वजह से सुशांत की मौत पर हो रही राजनीति


महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि बिहार चुनाव को ध्यान में रखकर कुछ नेता एक्टर सुशांत सिंह की मौत पर बयानबाजी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि संवैधानिक विशेषज्ञों को देश के संघीय ढांचे का भी ख्याल रखना चाहिए.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार अब इस पर विचार करेगी कि क्या सुशांत सिंह की मौत की एक समानांतर जांच कराई जानी चाहिए या नहीं? उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले में इस बात की चर्चा है और इस पर विचार किया जाएगा.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत

सुशांत सिंह की खुदकुशी मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने पर गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करते हैं और राज्य सरकार इस केस में सीबीआई को सभी मदद करेगी.


जब अनिल देशमुख से पूछा गया कि, मुंबई पुलिस जो कि इस केस का जांच कर रही है और 50 से ज्यादा लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है, के लिए सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का क्या मतलब है तो अनिल देशमुख ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में साफ कहा है कि मुंबई पुलिस पूरी दक्षता के साथ इस मामले की जांच कर रही थी और इस प्रक्रिया में कोई खामी नहीं थी. पूरी जांच स्पष्ट तरीके से की गई है.

बिहार चुनाव को देखते हुए बयानबाजी

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद महाराष्ट्र विपक्ष ने राज्य के गृह मंत्री का इस्तीफा मांगा है और कहा है कि राज्य सरकार ने मुंबई पुलिस की छवि खराब की है. इसके जवाब में अनिल देशमुख ने कहा कि बहुत से ऐसे नेता हैं जो इस मुद्दे पर राजनीति कर रहे हैं और वे बिहार चुनाव को ध्यान में रखते हुए बयानबाजी कर रहे हैं.


महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा कि देश के संघीय ढांचे का सम्मान करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि संवैधानिक विशेषज्ञों और विद्वानों को बाबा साहेब द्वारा रचित संविधान में वर्णित संघीय ढांचे की भी चिंता करनी चाहिए.

ADVERTISEMENT