राज्य सचिवालय से वर्चुअल बैठक करके ममता ने किया असंवैधानिक कार्य : राहुल सिन्हा


भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा है कि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को जिस तरह राज्य सचिवालय नवान्न में बैठकर उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा अन्य नेताओं के साथ वर्चुअल बैठक की है, वह पूरी तरह असंवैधानिक है। राज्य सचिवालय एक सरकारी कार्यालय है तथा वहां बैठकर राजनीतिक बैठक नहीं की जा सकती। मुख्यमंत्री ने यहां से बैठकर वर्चुअल मीटिंग करके अपने अधिकार का उल्लंघन किया है। 

राहुल सिन्हा ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री को बैठक की करनी थी तो वह तृणमूल कांग्रेस के पार्टी कार्यालय से बैठकर कर सकती थी लेकिन मुख्यमंत्री ने नवान्न से बैठक करके राज्य सचिवालय को पार्टी का कार्यालय बना दिया जो पूरी तरह संविधान विरोधी कार्य है। गौरतलब है कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नीट व जेईई परीक्षा स्थगित कराने को लेकर बुधवार को गैर भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की।    

इस बैठक में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि अगर केंद्र सरकार को लगता है कि वो नीट और जेईई की परीक्षा को स्थगित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील नहीं करेगी तो हम (राज्य सरकारें) संयुक्त रूप से सुप्रीम कोर्ट में अपील कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मेरा सभी राज्य सरकारों से अनुरोध है कि हमें साथ मिलकर काम करना होगा। बताते चलें कि नीट व जेईई परीक्षा पर रोक लगाने के लिए ममता सोमवार व मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी को लगातार दो चिठ्ठी भी लिख चुकी हैं।

ADVERTISEMENT