लॉकडाउन की तिथियों में बदलाव से एअरलाइंस कंपनियों को हो रहा नुकसान


बार-बार लॉकडाउन की तिथियों में बदलाव लाने के कारण एअरलाइंस कंपनियों को खासी दिक्कत हो रही है। एअरलाइंस कंपनियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार लॉकडाउन वाले दिनों में विमानों का परिचालन बंद रखने का अनुरोध दिल्ली मुख्यालय में भेजा गया था। अगस्त माह के जिन दिनों में लॉकडाउन रहेगा उन दिनों के अलावा बाकि दिनों में एअरलाइंस कंपनियों ने पहले टिकट बिक्री की थी।

बाद में जब राज्य सरकार ने लॉकडाउन की तिथियों में बदलाव किया तो एअरलाइंस कंपनियों को नयी तिथि के आधार पर यात्रियों को रूपये वापस करने पड़े। कई यात्रियों ने टिकट के बदले में एअरलाइंस कंपनी के खाते में ही अपने रूपयों को जमा रखा है ताकि भविष्य में फिर कभी उसका उपयोग टिकट खरीदने के लिए किया जा सके। वहीं कई यात्रियों ने टिकट के रूपये वापस ले लिये हैं। कुछ यात्रियों ने अपनी यात्रा की तिथि में बदलाव किया है।

एअरलाइंस कंपनियों का कहना है कि इतने देर से यदि टिकट बिक्री शुरू की जाएगी तो विमान की आधी सीटें खाली ही रह जाएगी। ऐसी स्थिति में विमानों का परिचालन करने से नुकसान होगा। कोलकाता के एअरलाइंस कंपनी के एक अधिकारी का कहना है कि इस मामले में दिल्ली में पत्र भेजा गया है। वे ही कोई निर्णय लेंगे। एक अन्य एअरलाइंस कंपनी के अधिकारी का कहना है कि एक बार टिकट रद करने के बाद लगता नहीं है कि कोई यात्री फिर से टिकट खरीदेगा। इस नुकसान से बचने का एक ही उपाय है कि लॉकडाउन की जिन 4 तिथियों में बदलाव किया गया है, उन चारों दिनों की उड़ान को रद कर अगले दिन उड़ान की टिकटें जारी कर दी जाए। क्योंकि इन दिनों में काफी यात्रियों ने यात्रा करने के लिए टिकट लिया था।

ट्रावेल एजेन्ट्स फेडरेशन के चेयरमैन अनील पंजाबी का कहना है कि लोग परेशान हो गये हैं। जिस तरीके से लॉकडाउन की तिथियां बदल रही है, उससे लोग अगस्त माह में कोलकाता से बाहर जाने के लिए राजी भी नहीं है। उन्होंने बताया कि कोलकाता से विदेशों में जाने के लिए वंदे भारत उड़ान सीधे ना मिलने के कारण यात्रियों को दिल्ली, मुंबई होकर जाना पड़ रहा है। विदेश जाने के लिए पहले कोरोना संक्रमण की जांच करवानी पड़ रही है और उसके 96 घंटों के अंदर विदेशी जमीन पर पैर रख देना पड़ रहा है। इस प्रकार लगातार लॉकडाउन की तिथियों में बदलाव करने के कारण दिल्ली-मुंबई जाकर उड़ान लेना और उसके 96 घंटों के अंदर विदेश पहुंचना भी अनिश्चित हो जा रहा है।

ज्ञात हो कि राज्य सरकार ने पहले बताया था कि 2 और 9 अगस्त को लॉकडाउन रहेगा। उन दोनों दिनों में सभी उड़ानों को रद कर दिया गया था। बाद में राज्य सरकार ने कहा कि इन दोनों दिन लॉकडाउन नहीं होगा। फिर इन दिनों में टिकट बिक्री शुरू तो की गयी लेकिन 2 अगस्त को अधिक यात्रियों ने टिकट नहीं खरीदा था। अब फिर से लॉकडाउन के दिन में बदलाव किया गया है। 

ADVERTISEMENT