12 घंटे बाद भी घर नहीं पहुंची एंबुलेंस, ट्रॉली में ले जाना पड़ा कोरोना मरीज का शव


तमिलनाडु के थेनी से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां पर कोरोना से मरने वाली एक बुजुर्ग महिला का शव ट्रॉली में अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया. इसका वीडियो सामने आने के बाद कई लोग सहम गए. 75 वर्षीय महिला को थेनी में एक प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल केंद्र में भर्ती कराया गया था.

पिछले कुछ दिनों से उनकी तबीयत ठीक नहीं थी. वह डायरिया से पीड़ित थीं. इलाज के बाद वह वापस घर गईं, लेकिन दो दिन बाद उनके कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी सामने आई.

महिला को होम क्वारनटीन में रहने की सलाह दी गई. लेकिन शुक्रवार को उनकी मौत हो गई. घटना की जानकारी पाकर आए पड़ोसियों ने तुरंत नगर निगम के अधिकारियों को सूचित किया और एंबुलेंस के इंतजाम की कोशिश की गई. लेकिन 12 घंटे बाद भी महिला के घर पर कोई एंबुलेंस नहीं पहुंची.

अंत में एक स्थानीय सफाईकर्मी ने मदद की. एक ट्रॉली में शव को ले जाने की व्यवस्था की गई. बुजुर्ग महिला का एक बेटा है. इस घटना से गंभीर सवाल उठ रहे हैं. सरकार कोरोना से होने वाली मौतों को कैसे संभाल रही है.

ADVERTISEMENT