साउथ चाइना सी में बढ़ा तनाव, चीन की सेना ने अभ्यास शुरू किया, वॉरप्लेन तैनात


दक्षिणी चीन सागर में पिछले काफी वक्त से लगातार तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है. अमेरिका द्वारा चीन के दावे को नकारने के बाद यहां हलचल तेज़ हुई है. इस बीच बीते दिनों चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने यहां पर युद्ध अभ्यास किया. इतना ही नहीं अब चीन ने यहां पर वॉरप्लेन को तैनात कर दिया है और अपने इलाके की सुरक्षा की बात कर रहा है.

चीनी मीडिया ग्लोबल टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका ने जिस तरह साउथ चाइना सी में अपने वॉरप्लेन भेजे हैं, ऐसे में चीन का हक है कि वो अपनी सुरक्षा को कड़ी करे. ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक, अमेरिका ने जिस तरह पिछले कुछ दिनों में बयान दिए हैं वो उकसाने वाले हैं.

चीन के राष्ट्रीय रेडियो के मुताबिक, PLA की एक पूरी ब्रिगेड साउथ चाइना के हैनाना इलाके में समुद्री हमलों की तैयारी करेगी, इस दौरान JH7 लड़ाकू बॉम्बर की भी प्रैक्टिस की जाएगी. ये अभ्यास गुरुवार तक चलेगा. दूसरी ओर फॉर्ब्स ने दावा किया है कि PLA ने इस इलाके में करीब अपने चार J-11B फाइटर जेट्स तैनात कर लिए हैं, जो अमेरिकी वॉरप्लेन को चेतावनी हैं.

आपको बता दें कि बीते दिनों अमेरिका ने चीन के दावे को नकार दिया था और साउथ चाइना सी में अपनी मौजूदगी को अचानक बढ़ा दिया था. अमेरिका ने दो हफ्ते में दो बार कई एयरक्राफ्ट को इस इलाके में ड्रिल के लिए भेजा, इसके अलावा अमेरिका की एक वॉरशिप बीते दिनों इस इलाके में चक्कर लगाते दिखी. यही कारण है कि चीन पूरी तरह से भड़का हुआ है.

ग्लोबल टाइम्स का कहना है कि जो कुछ हो रहा है वो अमेरिका से काफी दूर है और चीन के दरवाजे पर है, ऐसे में इस उकसावे के लिए अमेरिका को ही जिम्मेदार माना जाएगा. हालांकि, चीन ने ये भी दावा किया है कि उनकी ये एक्सरसाइज़ कोई नई नहीं है, वो लगातार इस तरह की ड्रिल करते हैं. मई से ही इस इलाके में एंटी सबमरीन एयरक्राफ्ट, कंट्रोल सिस्टम को तैनात किया जा चुका है.

गौरतलब है कि लद्दाख सीमा पर भारत से भिड़ चुका चीन साउथ चाइना सी इलाके में अपने पड़ोसियों को लंबे वक्त से परेशान करता आया है. फिर चाहे वो जापान हो या फिर वियतनाम, लेकिन इस बार एक तरफ से उसे जापान ने परेशान किया है तो फिर दूसरी ओर से अमेरिका भी आ गया है.

ADVERTISEMENT