CoronaVirus Bihar: बिहार में विस्‍फोटक हुए हालात, पटना का जायजा लेकर गया पहुंची केंद्रीय टीम


बिहार में छलांग लगा रही कोरोना संक्रमितों की संख्या से स्थिति गंभीर होती जा रही है। हफ्तेभर से प्रतिदिन करीब एक हजार संक्रमित मरीजों के आंकड़े सामने आने के बाद केंद्र सरकार की विशेष टीम रविवार को बिहार पहुंची। रविवार को पटना का जायजा लेने के बाद टीम सोमवार को गया पहुंची है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा है कि केंद्र द्वारा बिहार को हर संभव मदद उपलब्ध कराई जा रही है। कोरोना को रोकने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं।

तीन सदस्‍यीय केंद्रीय टीम ने लिया हालात का जायजा

बिहार में कोरोना विस्फोट की हालत यह है कि मरीजों की संख्या 26 हजार के पास पहुंच चुकी है। लगातार बिगड़ते हालात को लेकर चिंतित केंद्र सरकार की भेजी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की उच्च स्तरीय टीम विभाग के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के नेतृत्व में रविवार को दोपहर 12 बजे एयर इंडिया की फ्लाइट से पटना पहुंची। इस तीन सदस्यीय टीम में नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ. एसके सिंह और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान के मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज निश्छल भी शामिल हैं।

पटना के के बाद गया पहुंची टीम

हाई लेवल टीम ने बिहार में कोरोना की स्थिति का ऑन-स्‍पॉट तथा अधिकारियों से जानकारी ली। टीम ने पटना के कंटेनमेंट जोन का भी दौरा किया। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि पटना में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद टीम गया जिले का दौरा करेगी। केंद्रीय टीम सोमवार को कोरोना संक्रमण का जायजा लेने गया पहुंची है।

मंगवाए एक लाख रैपिड एंटीजन टेस्‍ट किट

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकारें मिलकर कोविड-19 की रोकथाम के लिए सभी महत्वपूर्ण कदम लगातार उठा रही हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की नजर बिहार की स्थिति पर बनी हुई है। सरकार ने कोरोना की जोच के लिए पिछले हफ्ते 50 हजार किट मंगवाए थे। इस किट से महज आधे घंटे में कोरोना संक्रमण की जांच हो जाती है। 50 हजार और रैपिड एंटीजन टेस्ट किट बिहार पहुंच गयी है।

केवल 10 दिनों में ही दोगुने हो गया संक्रमण

विदित हो कि बिहार में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है। शनिवार को 739 नए मामले सामने आए। इसके साथ मरीजों की कुल संख्या 24967 हो गई है। बीते आठ जुलाई को जहां 13274 मरीज थे, वहीं 10 दिनोे बाद अब मामले दोगुने से अधिक हो गए हैं।

ADVERTISEMENT