West Bengal: कोरोना की स्थिति का आकलन के लिए केंद्रीय दल ने हुगली जिले का किया दौरा


कोरोना की स्थिति का आकलन के लिए बंगाल के दौरे पर आई तीन सदस्यीय केंद्रीय टीम गुरुवार को हुगली जिले के दौरे पर पहुंची। टीम के सदस्यों ने जिले के श्रीरामपुर स्थित श्रमजीवी अस्पताल का परिदर्शन किया, जहां कोविड-19 मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार, सुबह करीब 10 बजे केंद्रीय प्रतिनिधि दल श्रमजीवी अस्पताल पहुंचे। केंद्रीय टीम के साथ हुगली के जिलाधिकारी वाई रत्नाकर राव, अतिरिक्त जिलाधिकारी प्रलय मजूमदार, श्रीरामपुर के महकमा अधिकारी सम्राट चक्रवर्ती सहित कई अधिकारी मौजूद थे। तकरीबन एक घंटे तक केंद्रीय प्रतिनिधि दल के सदस्यों ने श्रमजीवी अस्पताल का जायजा लिया और यहां कोरोना मरीजों का ठीक तरीके से इलाज हो रहा है या नहीं इस बारे में जानकारी हासिल की।

केंद्रीय दल ने अस्पताल प्रबंधन एवं चिकित्सकों के साथ बैठक भी की। केंद्रीय टीम ने जिला अधिकारियों के साथ बैठक में किसी भी प्रकार की जरूरत होने पर हरसंभव मदद का भी आश्वासन दिया। हालांकि इस दौरान केंद्रीय दल के सदस्यों ने मीडिया के साथ कोई बातचीत नहीं की।खबर है कि और बेहतर चिकित्सा व्यवस्था को लेकर केंद्रीय दल ने अस्पताल प्रबंधन को कुछ सुझाव भी दिए हैं।

वहीं, जिलाधिकारी वाई रत्नाकर राव ने कहा कि केंद्रीय प्रतिनिधि दल के सदस्यों ने अस्पताल परिदर्शन करने के बाद यहां की चिकित्सा व्यवस्था को देख संतोष व्यक्त किया। जिलाधिकारी ने बताया कि प्रतिनिधि दल के सदस्यों का कहना है कि कोरोना के खिलाफ हमलोगों को लंबी लड़ाई लड़नी है स्वास्थ्य नियमों का पूर्ण रूप से पालन हो इस विषय पर लोगों को जागरूक करने की जरूरत है।

बता दें कि हुगली जिले में भी कोरना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। जिले में अब तक कोरोना के 666 मामले सामने आ चुके हैं। बता दें कि बुधवार को केंद्रीय टीम ने हावड़ा जिले के कई अस्पतालों का दौरा किया था और अधिकारियों के साथ बैठक की थी। इससे पहले मंगलवार को कोलकाता के कई इलाकों का केंद्रीय टीम ने दौरा किया था। 

ADVERTISEMENT