कोरोना काल में बना इतिहास, पहली बार वीडियो कॉल का हिस्सा बनीं महारानी एलिजाबेथ


कोरोना वायरस के संकट ने देश और दुनिया में सबकुछ बदल दिया है. कोई आम हो या फिर खास अपने जीवन में बदलाव लाने को मजबूर हुआ है. ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय ने भी इस बार कुछ ऐसा किया कि इतिहास में दर्ज हो गया. एलिज़ाबेथ बीते दिनों एक वीडियो कॉल का हिस्सा बनीं, जो कि पहली बार हुआ था.

कोरोना वायरस संकट से लड़ रहे ब्रिटेन में अबतक 40 हजार से अधिक मौतें हो चुकी हैं. इस बीच महारानी ने कोरोना वॉरियर्स यानी स्वास्थ्यकर्मियों से वीडियो कॉल के जरिए बात की, जो इस लड़ाई को फ्रंटफुट पर लड़ रहे हैं.

इस वीडियो कॉल में शामिल होने वालीं एलिजाबेथ सबसे आखिरी व्यक्ति थीं और कॉल छोड़ने वाली सबसे पहली व्यक्ति. हालांकि, ये शाही प्रोटोकॉल का हिस्सा है कि महारानी आखिर में आती हैं और पहले जाती हैं. 94 साल की महारानी एलिजाबेथ ने इस दौरान स्वास्थ्यकर्मियों को बधाई दी और कहा कि आपकी वजह से हजारों लोगों की जान बच पाई है.

पिछले तीन महीने में ये पहली बार था जब एलिजाबेथ पब्लिक के सामने इस तरह आई थीं, वह 20 मिनट बातचीत का हिस्सा बनीं. लोगों से इस दौरान आने वाली परेशानी को पूछा, इलाज की दिक्कतों, होम आइसोलेशन, क्वारनटीन समेत अन्य सभी समस्याओं को लेकर बात की.

बता दें कि महारानी पिछले तीन महीने से अपने शाही आवास पर अपने पति प्रिंस फिलिप के साथ रह रही हैं. कोरोना वायरस का असर शाही परिवार में भी दिखा था, जब प्रिंस चार्ल्स इसकी चपेट में आ गए थे, लेकिन वह ठीक भी हो गए थे. इसके अलावा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना की चपेट में आए थे, लेकिन इलाज के बाद ठीक हो गए थे.

ADVERTISEMENT