मोदी सरकार की लॉकडाउन से बाहर आने की रणनीति पर अधीर रंजन चौधरी ने उठाए सवाल


कोलकाता: लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने शुक्रवार को केंद्र सरकार पर लॉकडाउन से बाहर निकलने के लिए 'आकस्मिक और गैर-पेशेवर' रणनीति अपनाने का आरोप लगाया तथा कहा कि इसके कारण ही देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि हुई। चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संकट को महसूस करने के लिए 'काल्पनिक से वास्तविक भारत' में आने को कहा। देश में कोरोना के मामले तीन लाख के पार चले जाने के बाद उनका यह बयान सामने आया है।

चौधरी ने ट्वीट किया, 'लॉकडाउन लागू करने की तरह ही, इससे निकलने के लिए भी आकस्मिक और गैर-पेशेवर रणनीति अपनाई गई, जोकि जोखिम भरी है। इसके फलस्वरूप देश में कोरोना वायरस के मामले चिंताजनक स्थिति में पहुंच गए, जोकि विश्व में पहले पायदान की ओर बढ़ रहे हैं। नरेंद्र मोदी जी काल्पनिक से वास्तविक भारत में आइए।'

भारत में कोरोन के मामले तीन लाख के पार
कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से भारत में पहली बार एक दिन में संक्रमण के 10,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं, जिसके साथ ही देशभर में संक्रमित लोगों का आंकड़ा तीन लाख के पार चला गया। पिछले दस दिन के भीतर ही एक लाख मामले सामने आने के मद्देनजर सरकार ने महामारी की रोकथाम के लिए सख्त उपाय अपनाने की जरूरत पर जोर दिया।

पीएम मोदी करेंगे मुख्यमंत्रियों से बात
केंद्र ने शुक्रवार को राज्यों से कोविड-19 के उभरते केंद्रों (अत्यधिक मामलों वाले नये स्थानों) पर विशेष ध्यान देने और कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए सख्त कदम उठाने को कहा। कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू लॉकडाउन से देश के धीरे-धीरे बाहर आने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले सप्ताह राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक बार फिर विचार-विमर्श करेंगे।

ADVERTISEMENT