बेहोश महिला के ऊपर से गुजरीं तीन-तीन ट्रेनें, पर नहीं आई खरोंंच; हैरान कर देगा कुदरत का करिश्‍मा


जाको राखे साइयां, मार सके ना कोय। यह कहावत बिहार के छपरा में तब चरितार्थ हो गई, जब एक बेहोश महिला के ऊपर से एक नहीं, पूरी ट्रेन गुतर गई और उसे खरोंंच तक नहीं आई। घटना के बाद वहां भारी भीड़ जमा हो गई। लोगों ने महिला को उठाकर बैठाया। फिर, पुलिस ने तहकीकात के बाद उसे स्‍वजनों के हवाले कर दिया। 

बेहोश हो ट्रैक पर गिर पड़ी महिला, ऊपर से गुजरीं तीन ट्रेनें

मिली जानकारी के अनुसार छपरा-सिवान रेलखंड पर भोला ढाला के पास रेलवे ट्रैक पर एक महिला बेहोश होकर गिर गई। उसपर किसी की नजर नहीं पड़ी। इस दौरान दो मालगाड़ी समेत तीन ट्रेनें ट्रैक से गुजरीं, मगर महिला को खरोंच तक नहीं आई। 

लोगों ने ट्रैक से हटाया, पुलिस ने किया स्‍वजनों के हवाले 

इस दौरान ड्यूटी पर तैनात की-मैन की नजर ट्रैक पर गिरी महिला पर पड़ी तो उसने शोर मचाया। फिर तो वहां भीड़ जुट गई। लोगाें ने महिला को वहां से हटाया और तत्काल दाउदपुर स्टेशन मास्टर को इसकी सूचना दी। स्टेशन मास्टर की सूचना पर स्थानीय पुलिस वहां पहुंची। पुलिस ने महिला को स्वजनों को बुलाया, फिर उसे उनके हवाले कर दिया।

लापता भाई को ढ़ूंढ़ने निकली थी महिला, लौटती में हुआ हादसा 

महिला की पहचान सारण के कोपा थाना क्षेत्र की चिंता देवी के रूप में हुई है। उसने बताया कि उसके भाई बच्चा महतो के गायब होने की सूचना पर वह अपनी मां कमलावती देवी के साथ उसे ढूंढने निकली थी। कड़ी धूप के कारण मां एक जगह रुककर आराम करने लगी। जबकि, चिंता देवी रेलवे ट्रैक के बीच चलते हुए सिवान की ओर बढ़ चली। इसी दौरान वह बेहोश होकर रेल ट्रैक के बीचोबीच गिर पड़ी।

पुरे इलाके में घटना की चर्चा, लोग बता रहे कुदरत का करिश्‍मा 

बहरहाल, पूरे इलाके मेें घटना की चर्चा हो रही है। सभी दुर्घटना में महिला के बच जाने को कुदरत का करिश्‍मा मान रहेे हैैं।

ADVERTISEMENT