तेलीनिपाड़ा में पुलिस निष्क्रिय, अर्जुन सिंह व लॉकेट ने किया धरना प्रदर्शन


हुगली: रविवार रात से ही हुगली जिले के भद्रेश्वर थाना अंतर्गत तेलीनिपाड़ा सुलग रहा है। बमबाजी, आगजनी और लूटपाट की खबरें आ रही है। पुलिस की ओर से दावा किया जा रहा है कि पुलिस सक्रिय हुई है और हिंसा रोकने की कोशिश जारी है। लेकिन मंगलवार दिनभर के अलावा रात से बुधवार सुबह तक हिंसा की खबरें आती रही। इलाके में तनाव को देखते हुए बुधवार सुबह से बड़ी संख्या में पुलिस के जवान पहरा दे रहे हैं। डर के मारे लोग घरों में दुबके हुए हैं। कई लोग अपनी जान बचाने के लिए इलाके से पलायन कर चुके हैं।

सोमवार को स्थानीय सांसद ने लॉकेट चटर्जी इलाके में जाने की कोशिश की थी लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया। लॉकेट चटर्जी के दोबारा अनुरोध करने के बाद भी चंदननगर पुलिस कमिश्नरेट के पुलिस कमिश्नर डॉ. हुमायूं कबीर ने उनसे मुलाकात नहीं की। इसके बाद मंगलवार को लॉकेट चटर्जी ने भाजपा प्रतिनिधिमंडल के साथ राज्यपाल से मुलाकात कर हिंसा की रिपोर्ट सौंपी थी। बुधवार को लॉकेट चटर्जी और बैरकपुर के सांसद अर्जुन सिंह ने हुगली जिले के जिलाधिकारी वाई. रत्नाकर राव से मुलाकात करने उनके कार्यालय पहुंची लेकिन उनकी अनुपस्थिति के कारण मुलाकात नहीं हो सकी। डीएम से कब मुलाकात होगी इसकी भी जानकारी उन्हें नहीं मिल पाई। इसके बाद लॉकेट चटर्जी एवं अर्जुन सिंह ने कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ डीएम कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए। मीडिया से बातचीत के दौरान लॉकेट ने पुलिस कमिश्नर को हटाने की मांग की।

दूसरी ओर अर्जुन सिंह ने कहा कि तेलीनिपाड़ा में हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ा जा रहा है। साथ ही हिंदुओं के घरों में लगातार लूटपाट की जा रही हैं। इलाके में बहुत ज्यादा तनाव है। पुलिस बिना पक्षपात किए कार्यवाही करें। कल्याण बनर्जी द्वारा हिंसा फैलाने का आरोप भाजपा पर लगाए जाने के बारे में प्रतिक्रिया देते हुए अर्जुन सिंह ने कहा कि वह शराबी है, दारू पी कर नाचता है उसके बात को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है। बुधवार दोपहर तक राज्य पुलिस के आला अधिकारी इलाके में पहुंच चुके थे बुधवार अपराह्न पुलिस के हस्तक्षेप के बाद भाजपा सांसदों ने धरना खत्म किया।

ADVERTISEMENT