महाचक्रवात अम्फान: बंगाल में एक लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया


कोलकाता :पश्चिम बंगाल के तटों के निकट महाचक्रवात ‘अम्फान’ के पहुंचने के बीच राज्य सरकार ने तटीय जिलों से एक लाख लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है और डेढ़ लाख और लोगों को निकाले जाने की प्रक्रिया चल रही है। आपदा प्रबंधन मंत्री जावेद खान ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि सुंदरबन समेत तटीय जिलों पूर्वी मिदनापुर, उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना को सतर्क किया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘हम पहले ही लगभग एक लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा चुके है, जो ज्यादातर निचले इलाकों से हैं और अभी मंगलवार की रात तक डेढ़ लाख और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का लक्ष्य है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘निकाले गये लोगों को चक्रवात शिविरों, स्कूलों और कॉलेजों में रखा गया है।’’

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सरकार ने सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाये गये लोगों को दो लाख से अधिक मास्क वितरित किये है और जोखिम वाले क्षेत्रों में तैनात राज्य आपदा राहत बल (एसडीआरएफ) के कर्मियों को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट दी गई है। आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारी ने कहा, ‘‘एसडीआरएफ के लगभग चार हजार कर्मी लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने संबंधी अभियान की निगरानी कर रहे हैं। मछुआरों को अगले दो दिन तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है और जो लोग समुद्र में हैं, उन्हें वापस लौटने को कहा गया है।’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘हम किसी भी घटना से निपटने के लिए हर संभव उपाय कर रहे हैं। स्थिति पर नजर रखने के लिए विशेष नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं।’’

ADVERTISEMENT