कोरोना संकट से निपटने में केंद्र की दखलअंदाजी से ममता नाराज, अमित शाह से बोलीं- 'आइए आप संभालिए'


कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमलावर हो गई हैं। कोरोना संकट से निपटने को लेकर केंद्र की ओर से की जा रही दखलअंदाजी से ममता खासी नाराज हैं। बुधवार को ममता बनर्जी कहा - 'मैंने अमित शाह (Amit Shah) से कहा, अगर आपको लगता है कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) अपने दम पर सब कुछ मैनेज नहीं कर सकता है तो आप आइए और संभालिए। इस पर अमित शाह ने तब कहा था कि चुने हुए सरकार को हम कैसे तोड़ सकते हैं। यह कहने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूं।' इससे पहले ममता ने श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों को लेकर रेल मंत्रालय पर निशाना साधा।

लिखेंममता बनर्जी ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि रेलवे प्रवासी कामगारों के लिए विशेष रेलगाड़ियां अपनी मर्जी और शर्तों पर चला रहा है। पश्चिम बंगाल अम्फान के बाद बड़ी आपदा का सामना कर रहा है और रेलवे रोजाना श्रमिक ट्रेनें भेज रहा है। इससे Covid-19 के मामलों में इजाफा होगा। उन्होंने कहा, 'मैं नहीं जानती कि रेल मंत्रालय ऐसा क्‍यों कर रहा है। हम दो लाख प्रवासी मजदूरों की जांच किस तरह करेंगे? क्‍या केंद्र मदद करेगा?' मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि आप महाराष्‍ट्र को खाली कर रहे हैं और बंगाल में कोरोना फैला रहे हैं। ममता ने कहा कि पूरे बंगाल में प्रवासी मजदूरों की 11 ट्रेनें देर रात अलग-अलग स्‍थानों पर आ रही है। 17 ट्रेनें और आनी हैं। ममता ने कहा, 'बीजेपी मुझे राजनीतिक रूप से परेशान कर सकती है। मगर वे राज्य को क्यों नुकसान पहुंचा रहे हैं। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि रेल मंत्रालय ने कोई जिम्‍मेदारी नहीं दिखाई है।'

ममता ने कहा, प्रधानमंत्री से अपील है कि कोरोना और नहीं बढ़ना चाहिए
ममता ने कहा कि यह समय इस मुद्दे पर राजनीति करने का नहीं है। मैं प्रधानमंत्री से अपील करती हूं कि कोरोना का प्रकोप अब और नहीं बढ़ना चाहिए, यह पहले ही देश में काफी फैल चुका है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना के केस बंगाल ही नहीं, सब जगह बढ़ रहे हैं। क्‍या यह बिहार में नहीं फैल रहा जहां जेडीयू के साथ बीजेपी सत्‍ता में है। उन्‍होंने कहा कि मैं इस मामले में पीएम का दखल चाहती हूं, वह हमारी मदद करें।

ADVERTISEMENT