दिल्ली में फिर टूटा कोरोना का रिकॉर्ड, 24 घंटे में 1295 नए पॉजिटिव केस


देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर जारी है. यहां कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 19844 तक पहुंच गए हैं. पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 1295 नए मामले सामने आए हैं. 24 घंटे में सामने आने वाली अब तक की यह सबसे बड़ी संख्या है.

दिल्ली में एक तरफ मरीजों की संख्या बढ़ रही है तो दूसरी ओर इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की तादाद में भी बढ़ोतरी देखी जा रही है. पिछले 24 घंटे का रिकॉर्ड देखें तो 416 कोरोना मरीज ठीक हुए हैं जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है या ये मरीज माइग्रेट कर गए हैं.

दिल्ली में अब तक ठीक, डिस्चार्ज या माइग्रेट हुए लोगों की लोगों की संख्या 8478 तक पहुंच गई है. हालांकि मौतों की संख्या में गिरावट अभी नहीं देखी जा रही. पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से 13 लोगों की मौत की खबर है. कुल आंकड़ा देखें तो अब तक कोरोना से दिल्ली में 473 लोगों की मौत हो चुकी है.

दिल्ली में कोरोना के एक्टिव केस की जहां तक बात है तो यह तादाद 10893 है. दिनों दिन दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या का आंकड़ा देखें तो 28 मई को 1024, 29 मई को 1106 और 30 मई को 1163 मामले सामने आए थे. 31 मई को यह संख्या बढ़कर 1295 तक पहुंच गई है.

दिल्ली में पुलिसकर्मी भी कोरोना से काफी ज्यादा संक्रमित हैं. रविवार को एक और पुलिसकर्मी की मौत हो गई. सुल्तानपुरी थाने में तैनात एएसआई विक्रम की कोरोना से मौत हो गई. कोरोना की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद उन्हें आर्मी बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहीं इससे पहले रविवार सुबह एक एएसआई की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस में कोरोना से अब तक तीन कर्मियों की मौत हो चुकी है.

करीब 54 वर्ष के असिटेंट सब-इंस्पेक्टर विक्रम सुल्तानपुरी थाने में तैनात थे. तबीयत खराब होने पर 28 मई को अस्पताल में भर्ती हुए जहां उनका कोरोना का टेस्ट भी हुआ. 29 मई को कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इलाज के दौरान रविवार को एएसआई विक्रम की आर्मी अस्पताल में मौत हो गई. एएसआई विक्रम मोटरसाइकिल पेट्रोलिंग की ड्यूटी पर तैनात थे. वहीं, रविवार सुबह असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) शेषमणि पांडेय की कोरोना से मौत हो गई. शेषमणि पांडेय फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट थे. 26 मई को उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी. हालत गंभीर होने पर उन्हें भी आर्मी बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी तैनाती सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट में चल रही थी.

ADVERTISEMENT