जरूरतमंदों की मदद को आगे आई मारवाड़ी महिला समिति


युवा शक्ति टीम 

- सैकड़ों लोगों में बांटी गई खाद्य व जरूरत की अन्य सामग्रियां
- 14 दिनों तक चलेगा भोजन कराने का कार्य

कोलकाता : कोरोना वायरस को हराने के लिए चल रहे लॉकडाउन के दौरान लोग घरबंदी हैं। इसमें कामकाज भी ठप है। ऐसे में रोज कमाने खाने वाले लोगों के सामने रोजी- रोटी का संकट आ गया है। ये लोग भूखा ना रह जाए, इसके लिए मारवाड़ी महिला समिति की  कोलकाता शाखा ने सहायता का हाथ बढ़ाया है। यह समिति अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन के अंतर्गत हैै।

समिति ने जन जागरण प्रकल्प के अंतर्गत चार अलग-अलग स्थानों पर 85000 रूपये की भोजन सामग्री एवं जरूरत की अन्य सामग्रियां समाज के पीड़ित वर्ग के बीच वितरित की। मारवाड़ी महिला समिति की कोलकाता शाखा की अध्यक्ष पूनम अग्रवाल ने बताया कि इस कार्य में समिति की कई सदस्यों ने आर्थिक मदद के साथ ही सक्रिय योगदान दिया। समिति ने कराया थाना पुलिस की   देखरख में बालीगंज की बस्ती में 100 पैकेट अनाज बांटा। इसमें प्रति व्यक्ति को 2 किलो चावल, 1/2 किलो दाल, 2 किलो आलू, तेल एवं मसाले दिए गए। समिति की ओर से इस कार्य में अहम योगदान के लिए प्रांतीय सचिव विनिता अग्रवाल एवं कोषाध्यक्ष ऋतु डारेलिया को धन्यवाद किया। इसी तरह समिति की तरफ से बालीगंज थाना की देखरख में 300 मास्क एवं हैंड ग्लोव बांटे गए। कांकुड़गाछी के हरिजन बस्ती में 50 जरूरतमदों को गरम पूड़ी, सब्ज़ी हलवा खिलाए गए। पूनम अग्रवाल ने बताया यह कार्य मंजू यादूका की देखरेख में 14 दिनों तक चलाया जाएगा। 

सॉलटलेक के सीके सीएल ब्लॉक एसोसिएशन के माध्यम से समिति द्वारा 41000 रुपये का अनाज बांटा गया। यह कार्य सरोज गर्ग एवं मिनाक्षी कानोरिया की देखरेख हुआ। समिति की शाखा अध्यक्ष पूनम अग्रवाल ने इस कार्य के लिए शाखा की सभी बहनों का दिल से धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि शाखा की सभी बहनों की सहयोग राशि द्वारा यह सेवा कार्य सम्पन्न हो पाया है।