Coronavirus: बंगाल में बीते 24 घंटे में 16 कोरोना संक्रमित, चार की मौत


देश के अन्य राज्यों की तरह ही बंगाल में भी कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या लगातार तेज रफ्तार से बढ़ रही है। इसका सबसे बड़ा प्रमाण यह है कि बीते चौबीस घंटे में बंगाल में 16 कोरोना संक्रमित रोगी मिले हैं, जिससे राज्य में रोगियों की संख्या 53 पहुंच गई। बीते 24 घंटे में बंगाल में कोरोना संक्रमित चार लोगों की मौत हो गई और अब मृतकों की संख्या सात हो गई है। यह जानकारी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा वरिष्ठ चिकित्सकों को लेकर गठित विशेष कमेटी की ओर से गुरुवार की शाम को राज्य सचिवालय नवान्न में दी गई।

हालांकि, विशेषज्ञ कमेटी के संवाददाता सम्मेलन के कुछ देर बाद ही बंगाल के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा मीडिया से मुखातिब हुए और उन्होंने कोरोना संक्रमितों की संख्या व मौत की संख्या को लेकर स्पष्टीकरण दिए। मुख्य सचिव के साथ गृह सचिव अलावन बंद्योपाध्याय और डीजीपी विरेंद्र भी मौजूद थे। मुख्य सचिव ने कहा कि विशेषज्ञ कमेटी की ओर से जो जानकारी दी गई है उसमें कुछ संशोधन है। उन्होंने कहा कि 53 कोरोना संक्रमित रोगियों में से तीन स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके हैं। वहीं, अस्पताल में भर्ती नौ ऐसे रोगी हैं, जिनका सेकेंड कोरोना जांच निगेटिव आया है। वहीं, तीन लोगों की कोरोना से मौत हुई है, जबकि अन्य चार जो मौतें हुई हैं वह अन्य बीमारी की वजह से हुई है। यह सब संख्या घटना के बाद राज्य में गुरुवार शाम छह बजे तक 34 कोरोना पॉजिटिव मामला है।

कमेटी के सदस्यों ने कहा कि अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में इस समय 137 लोग भर्ती हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में घर से नमूना लेकर 104 लोगों की कोरोना जांच की गई है। अब तक 133 लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को मिली है।

बंगाल में कोरोना वायरस से संक्रमित तीन रोगी ठीक हो कर घर लौटे हैं। परंतु, जिस तरह से संख्या बढ़ रही है उससे ऐसा लग रहा है कि यदि लॉकडाउन पर सख्ती से अमल नहीं किया गया तो स्थिति नहीं बदलेगी। क्योंकि, लगातार कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है, लेकिन लोग लॉकडाउन को ठेंगा दिखाकर घरों से बाहर निकल रहे हैं। बाजार व दुकानों पर भीड़ लगाकर खरीददारी कर रहे हैं।