तबलीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना पॉजिटिव, 9000 क्वारनटीन: स्वास्थ्य मंत्रालय


देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है गुरुवार शाम (4:58) तक कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 2,071 हो गई. वहीं इससे अब तक 66 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा इस जानलेवा बीमारी से अब तक 175 लोग ठीक हुए हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 328 नए मामले सामने आए हैं, जिसमें से 12 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने बताया कि देश भर में तबलीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना की चपेट में हैं. वहीं, गृह मंत्रालय से जानकारी के मुताबिक, 9000 लोगों को क्वारनटीन किया गया है, जिसमें से 1306 विदेशी हैं.

लव अग्रवाल ने बताया कि अंडमान निकोबार, जम्मू-कश्मीर, दिल्ली, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, राजस्थान और उत्त प्रदेश से आई रिपोर्ट के मुताबिक, तबलीगी जमात से जुड़े अब तक 400 कोरोना पॉजिटिव केसेज आ चुके हैं. इसके अलावा अतिरिक्त टेस्टिंग भी चल रही है जिससे कुछ और केसेज भी पाए जा सकते हैं.

उन्होंने बताया, तमिलनाडु से 173 लोग, राजस्थान से 11, अंडमान निकोबार से 9, दिल्ली से 47 पुडुचेरी से 2, जम्मू-कश्मीर से 22, तेलंगाना से 33, आंध्रप्रदेश से 67 और असम से 16 ऐसे पॉजिटिव केसेज आए हैं. ये नंबर और बढ़ता जा रहा है जैसे-जैसे सैंपलिंग की रिपोर्ट आती जा रही है.

लव अग्रवाल ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, कैबिनेट सेक्रेटरी फेक न्यूज के बारे में लिख चुके हैं. सुप्रीम कोर्ट के उन्हीं आदेश के अनुसार सही सूचना लोगों को मिल सके इसके लिए ज्वॉइंट सेक्रेटरी और एम्स के डॉक्टर के साथ एक ग्रुप बनाया गया है, एक ईमेल आईडी क्रिएट की गई है जिसका ऐड्रेस है technical query.covid19@govt.in जिस पर लोग कोविड-19 से जुड़े टेक्निल डाउट्स के बारे में गाइडेंस ले सकते हैं.

उन्होंने बताया, इसके तहत सुबह की जानकारी के अनुसार 900 लोगों ने ईमेल लिखी है जिसको एनालाइज कर सही गाइडेंस उपलब्ध करा रहे हैं. लव अग्रवाल ने कहा, एक और गाइडलाइन किडनी केसेज में कोविड-19 की स्थिति को लेकर जारी की गई है. उन्होंने कहा, किडनी के जो मरीज हैं उन्हें क्या एहतिहात बरतनी है इसके संबंध में गाइडलान जारी की गई है.

लव अग्रवाल ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार जितने भी राहत कैंप हैं जहां पर मजदूर हैं उनको सही तरीके से साइकोलॉजिकल सपोर्ट मिले उसे लेकर आदेश जारी करने के साथ-साथ घर में रहने वाले बड़े, बुजुर्ग और बच्चों को भी एनजाइटी और स्ट्रेस से निपटने के लिए गाइडलाइन जारी की है.

लव अग्रवाल ने कहा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई अभी चल रही है. सभी को इसमें सहयोग की जरूरत है. सभी धर्म के लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करें. लॉकडाउन का राज्य सरकारें सख्ती से पालन कराएं. मुंबई के धारावी में कोरोना से एक मौत हुई है, जिसके बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया है.