लक्ष्मण बोले- अगले 2-3 IPL टूर्नामेंट में भी खेल सकते हैं धोनी


भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अगले दो-तीन IPL तक खेलेंगे. लक्ष्मण ने एक चैनल के शो पर कहा, 'मुझे लगता है कि चेन्नई के लिए खेलना उनके लिए बेहतर होगा क्योंकि वह फिट हैं और उम्र महज आंकड़ा होती है, खासकर तब जब धोनी जैसा खिलाड़ी फिट हो. सिर्फ शारीरिक तौर पर नहीं मानसिक तौर पर भी. एक कप्तान के तौर पर वह चेन्नई की कप्तानी करने का लुत्फ उठाते हैं.'

वीवीएस लक्ष्मण ने कहा, 'वह ऐसा करते हुए काफी सफल भी रहे हैं. जहां तक धोनी के खेलने की बात है तो मैं आश्वस्त हूं कि आप उन्हें खेलते देखना चाहते थे.' उन्होंने कहा, 'सिर्फ यह आईपीएल नहीं. वह शायद अगले कुछ आईपीएल भी खेलेंगे और इसके बाद फैसला लेंगे.'

लक्ष्मण ने कहा कि जहां तक भविष्य की बात है तो धोनी इसे लेकर साफ हैं और उन्होंने रवि शास्त्री तथा विराट कोहली को भी 2019 विश्व कप के बाद इसकी जानकारी दे दी होगी. लक्ष्मण ने कहा, 'नई चयन समिति को धोनी के साथ बैठना होगा और उनके भविष्य को समझना होगा, लेकिन धोनी चेन्नई के साथ खेलना जारी रखेंगे.'

गंभीर ने धोनी पर दिया ये बयान

भारत के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने कहा था कि अगर इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) नहीं हुई तो महेंद्र सिंह धोनी के लिए टीम इंडिया में वापसी करना मुश्किल होगा. गंभीर ने कहा, ‘अगर इस साल आईपीएल नहीं होता है तो एमएस धोनी के लिए वापसी करना बेहद मुश्किल हो जाएगा. किस आधार पर उसका चयन किया जाएगा क्योंकि वह पिछले एक-डेढ़ साल से नहीं खेल रहा है.’

माही ने अपना आखिरी मैच खेल लिया?

पूर्व भारतीय ओपनर और मशहूर क्रिकेट कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने कहा, 'महेंद्र सिंह धोनी वर्ल्ड कप सेमीफाइनल से लेकर अभी तक टीम के लिए उपलब्ध नहीं हैं. धोनी को ड्रॉप नहीं किया गया है. मुझे लगता है कि उन्होंने अपना मन बना लिया है कि वह अब भारत के लिए नहीं खेलेंगे.'

आकाश चोपड़ा ने कहा, 'धोनी अब भी भारत के लिए खेल सकते हैं अगर उन्हें बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली, कोच रवि शास्त्री या कप्तान विराट कोहली की ओर से टी-20 वर्ल्ड कप में बुलाया जाए. अगर वे चाहें तो धोनी टी-20 वर्ल्ड कप के लिए वापस आ जाएं.' आकाश चोपड़ा ने कहा, 'हालांकि मुझे ऐसा लगता है कि धोनी ने अपना मन बना लिया है कि उन्हें विदाई मैच नहीं चाहिए. वो खामोशी से आए और खामोशी से चले जाना चाहते हैं.'