नीतीश सरकार में शिक्षा मंत्री के निजी सचिव ने तोड़ा लॉकडाउन, घर पर कराया सामूहिक भोज


देश में कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए लॉकडाउन लागू है. इस दौरान लोगों को अपने घरों में रहने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालने करने के निर्देश दिए गए हैं. हालांकि ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जब उच्च पदों पर बैठे अधिकारी ही इन निर्देशों का पालने करते हुए नजर नहीं आए. अब लॉकडाउन के उल्लंघन मामले में बिहार के शिक्षा मंत्री के निजी सचिव को गिरफ्तार किया गया है.

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्‍णनंदन वर्मा के निजी सचिव पर आरोप है कि उन्होंने अपने घर में सामूहिक भोज का आयोजन किया था. इस मामले में बिहार के शिक्षा मंत्री के निजी सचिव सहित जहानाबाद के डीएसपी और बीडीओ, सीओ के खिलाफ डीजीपी ने एफआईआर का आदेश दिया है. इन सभी पर लॉकडाउन के दौरान सामूहिक भोज में शामिल होने का आरोप है.

दरअसल, देश में 3 मई तक लॉकडाउन लागू है. लॉकडाउन के कारण कई गतिविधियों पर ब्रेक लगा हुआ है. इस बीच बिहार के शिक्षा मंत्री के निजी सचिव के घर पर सामूहिक भोज का आयोजन किया गया था. इस मामले में डीजीपी के आदेश पर मंत्री के निजी सचिव को गिरफ्तार कर लिया गया है.

देश में हर रोज कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है. देश में अब तक 15700 से ज्यादा कोरोनों संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है. वहीं बिहार में अब तक 80 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है. साथ ही बिहार में कोरोना वायरस के कारण दो लोगों की मौत भी हो चुकी है.