अब कार बनाने वाली कंपनी Hyundai बनाएगी वेंटिलेटर, इस विदेशी कंपनी से डील


कार बनाने वाली कंपनी हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड (HMIL) ने इस मुसीबत की घड़ी में वेंटिलेकर बनाने का फैसला किया है. इसके लिए हुंडई ने फ्रांस की कंपनी एयर लिक्विड मेडिकल सिस्टम्स (एएलएमएस) के साथ करार किया है.

कोरोना संकट के बीच बड़ी पहल

दरअसल, देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए तमाम ऑटो कंपनियां अपने स्तर पर मदद के लिए जुटी हैं. इसी कड़ी में हुंडई कंपनी ने मेडिकल सपोर्ट के लिए वेंटिलेटर बनाने का फैसला किया है.

वेंटिलेटर बनाने का फैसला

कंपनी इन वेंटिलेटर की तमिलनाडु और अन्य राज्यों में सप्लाई करेगी. फ्रांस की एएलएमएस (ALMS) की भारतीय यूनिट का कारखाना चेन्नई के पास है. इस साझेदारी के बाद अब दोनों कंपनियां मिलकर पहले चरण में 1,000 वेंटिलेटर का प्रोडक्शन करेगी. बाद में इसमें बढ़ोतरी की जाएगी.

हुंडई मोटर इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस.एस. किम ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने में वेंटिलेटर्स और अन्य मेडिकल उपकरण काफी अहम हैं. Hyundai और एएलएमएस मिलकर यह सुनिश्चित करेंगे कि देश में वेंटिलेटर की आपूर्ति स्थिर बनी रहे.

हुंडई और एएलएमएस का कहना है कि कोरोना वायरस से निपटने के कंपनी के प्रयासों में एक सकारात्मक बदलाव लाएगा. देश में वेंटिलेटर के लिए प्रतिबद्ध शोध और विकास सुविधा रखने वाली हम कुछ ही वैश्विक कंपनियों में से एक हैं.

तमाम कंपनियां कर रही हैं मदद

गौरतलब है कि अगर आने वाले दिनों में कोरोना को लेकर स्थिति बिगड़ती है तो वेंटिलेटर की जरूरत बढ़ सकती है. यह एक ऐसी मशीन है जो मरीज को सांस लेने में मदद करती है. यह मशीन खासतौर पर उन रोगियों को सांस लेने में मदद पहुंचाती है, जो खुद से ऑक्सीजन लेने में असमर्थ होते हैं.