इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों पर चाकू से हमला, सर्वे करने पहुंची थी टीम


कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए स्वास्थ्यकर्मी दिन-रात मेहनत कर रहे हैं. स्वास्थ्यकर्मी लोगों के घरों में जाकर भी उनकी जांच कर रहे हैं. हालांकि इस बीच लगातार स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की घटनाएं भी सामने आ रही हैं. अब मध्य प्रदेश में एक बार फिर से स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया है.

घटना मध्य प्रदेश के इंदौर की है. जहां स्वास्थ्य विभाग की सर्वे कर रही टीम पर पलासिया थाने के विनोबा नगर में हमला किया गया. सर्वे टीम पर चाकू से हमला किया गया. वहीं बीच-बचाव करने के लिए आए पड़ोसियों को भी इस दौरान चाकू लग गया.

सर्वे टीम में डॉक्टर, टीचर, पैरामेडिकल औए आशा कार्यकर्ता शामिल थे. हमला करने वाला शख्स इलाके का गुंडा बताया जा रहा है. हमले के बाद सभी स्वास्थ्यकर्मी पलासिया थाने पहुंचे. जहां उन्होंने पूरी घटना के बारे में बताया और शिकायत दर्ज करवाई.

उन्होंने घटना के बारे में बताया कि हमलावर ने सर्वे टीम में शामिल शिक्षिका को थप्पड़ मारा और उनका मोबाइल भी तोड़ दिया. इसके साथ ही महिलाओं को अभद्र शब्द भी कहे गए. सर्वे इंचार्ज आयुर्वेदिक डॉक्टर प्रवीण चौरे ने इस घटना की पुष्टि की.

पहले भी हो चुके हैं हमले

हालांकि ये पहले मामला नहीं है, जब इंदौर में इस तरह की घटना सामने आई हो. इससे पहले 1 अप्रैल को इंदौर के टाटपट्टी बाखल इलाके में कोरोना स्क्रीनिंग करने गयी स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया था. जिसके बाद देश भर में घटना का विरोध हुआ था. कलेक्टर ने बाद में आरोपियों पर रासुका लगाकर उन्हें जेल भेज दिया था.

हालांकि स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले के मामले देश के कई हिस्सों सें सामने आ चुके हैं. इंदौर ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद, मेरठ समेत देश के कई शहरों में स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की घटनाएं हो चुकी हैं.