CoronaVirus Bihar: 28 दिनों में 96 मरीज, राहत यह कि स्‍वस्‍थ भी हो रहे लोग


बिहार में 22 मार्च को पहली बार पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संसथान (AIIMS) में कोरोना (CoronaVirus) के दो मरीजों की पुष्टि हुई थी। उनमें से एक की मौत (Death) एक दिन पहले ही हो चुकी थी। दो मरीजों के साथ बिहार में कोरोना की उस दस्‍तक के 28 दिन बाद रविवार तक कुल 96 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। इनमें रविवार को नालंदा से मिले चार बक्‍सर के दो मामलाें के साथ भोजपुर का एक मरीज भी शामिल है। इनमें एक डॉक्‍टर भी हैं। राहत की बात यह है कि इन 28 दिनों में कोरोना के मामले जिस अनुपात में बढ़े उसी अनुपात में लोग स्वस्थ भी हुए। अभी तक केवल दो मरीजों की मौत हुई है।

नालंदा में डॉक्‍टर मिले कोरोना पॉजिटिव

कोरोना के ताजा मामले में रविवार को बक्‍सर के युवक व युवती तथा नालंदा के एक डॉक्‍टर समेत चार शामिल हैं। बक्‍सर के युवक व युवती का संपर्क आसानसोल से आए कोरोना पॉजिटिव मरीज से हुआ था। डॉक्‍टर बीते 11 अप्रैल को दुबई से लौटे एक संक्रमित युवक के संपर्क में आए थे। अब दोनों के संपर्क में आए लोगाें की पड़ताल शुरू कर दी गई है। सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे। डॉक्टर के संपर्क में आए करीब 74-75 डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों व मरीजों को क्वारंनटाइन किया जा रहा है।

मार्च के नौ दिनों में सामने आए कुल 21 मामले

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 22 मार्च को दो कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Positive) मिलने के बाद 24 मार्च को दो और नए मामले सामने आए। 26 मार्च तक यह संख्या नौ हो चुकी थी। आगे 28 मार्च तक 11 और 31 मार्च तक 21 हो चुकी थी।

अभी तक मिल चुके कुल 96 कोरोना मरीज

अप्रैल के पहले दिन तीन नए संक्रमण के मामले मिल गए। छह अप्रैल को यह संख्या 32, 10 अप्रैल को 60 और 15 अप्रैल को 72 हो गई थी। आगे केवल 16 से 18 अप्रैल के बीच ही यह आंकड़ा 72 तक जा पहुंचा। आज रविवार को नालंदा के एक डॉक्‍टर समेत चार तथा बक्‍सर के दो व भोजपुर के एक को करोना संक्रमित पाया गया है। अभी तक कुल 93 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं।

कोरोना पटना एम्‍स में से दो की मौत

जहां तक मौत की बात है, बिहार में कोरोना की दस्‍तक मुंगेर के एक युवक की मौत के साथ 21 मार्च को हुई थी। इसके बाद वैशाली के एक युवक की मौत बीते शुक्रवार को हुई। दोनों मरीजों का इलाज पटना एम्‍स में चल रहा था।

स्‍वास्‍थ्‍य सचिव बोले- सहयोग करे जनता

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इन आंकड़ो का हवाला देते हुए राज्य की जनता से अपील की है कि लोग अपने घरों में सुरक्षित रहें। लॉकडाउन के दौरान तय नियमों का पालन करें और कोशिश करें कि जब तक बेहद जरूरी न हो, घर से बाहर नहीं निकलें। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ जीत तभी हासिल होगी जब लोग शारीरिक दूरी रखकर सरकार को अपना सहयोग देंगे।