Coronavirus:कोलकाता में तीन और मामले आए सामने, संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर हुई सात


बंगाल में रविवार को एक ही दिन में कोरोना के तीन और मामले सामने आए. हाल में लंदन से लौटे कोरोना से संक्रमित युवक के परिवार के तीन अन्य सदस्यों में भी कोरोना की पुष्टि हुई. इसके साथ बंगाल में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 7 हो गई है. एक ही दिन में 3 मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है.

स्कॉटलैंड से लौटी महिला मिली थी संक्रमित

पश्चिम बंगाल में हाल ही में स्कॉटलैंड से लौटी एक महिला कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई है और इसके साथ ही राज्य में इस घातक विषाणु से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि महिला की आयु 23 है. वह 16 मार्च को स्कॉटलैंड से लौटी थी और उसे बाद में कोविड-19 संक्रमण जैसे लक्षण दिखने पर शहर के बेलेघाटा आईडी अस्पताल में भर्ती कराया गया. महिला उत्तर 24 परगना जिले के हाबरा की रहने वाली है. अधिकारी इस बारे में पुष्ट जानकारी नहीं दे पाए कि महिला विदेश से लौटने के बाद तय नियमों के आधार पर घर में पृथक थी या नहीं. इससे पहले पश्चिम बंगाल में संक्रमित पाए गए दो अन्य लोग भी विदेश से ही लौटे थे. दोनों ही युवक लंदन से कोलकाता लौटे थे. दोनों को बेलेघाटा आईडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में लंदन से कोलकाता लौटा एक युवा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. ये युवक 13 मार्च को लंदन से दिल्ली होते हुए कोलकाता आया था. उस के दो साथी भी कोरोना से संक्रमित बताये गये हैं। जिनमें से एक छत्तीगढ़ का है और दूसरा पंजाब का रहने वाला है. कोलकाता में बालीगंज निवासी 22 वर्षीय युवक 13 मार्च को लंदन से लौटने के बाद घर में आइसोलेशन में था. 16 मार्च को उसमें कोरोना के लक्षण दिखने लगे थे उसके बाद 17 मार्च को उसे बेलेघाटा आइडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. ये संक्रमित युवक 11 सदस्यों के एक संयुक्त परिवार में रहता है. सभी परिजनों को कोलकाता के राजारहाट स्थित चितरंजन कैंसर अस्पताल में क्वॉरेंटाइन में रखने का निर्णय लिया गया है. युवक के साथ उस दौरान लंदन से कौन-कौन लौटा है उसके बारे में भी जानकारी एकत्रित की जा रही है.