About Me

header ads

जनता कर्फ्यू: आपके लिए क्यों जरूरी है 14 घंटे तक घरों में कैद रहना


भारत में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना वायरस (Corona Virus) को मात देने के लिए आज यानी 22 मार्च को 14 घंटे का जनता कर्फ्यू शुरू हो गया है. कोरोना से जंग के लिए यह 14 घंटे परीक्षा की घड़ी है. इसके लिएआपको घर पर रहकर कोरोना को फैलने से रोकना है. दरअसल, देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में जनता कर्फ्यू जरूरी हो गया है.

आपको बता दें कि जनता कर्फ्यू में आपको कुछ नहीं करना है, यही आपके लिए सबसे बड़ा काम है. 14 घंटे घरों में कैद रहना जनता कर्फ्यू की सबसे बड़ी चुनौती है. आपको घर पर रहना और बाहर निकलने से बचना जरूरी है.

क्यों जरूरी है जनता कर्फ्यू?

जनता का...जनता के लिए...जनता के द्वारा लागू इस कर्फ्यू का मकसद कोरोना वायरस (COVID-19) को समुदायों के बीच फैलने से रोकना है. कोरोना वायरस को बढ़ने से रोकना और संक्रमण की चेन को तोड़ना है. जितने कम लोग घर से निकलेंगे और एक-दूसरे से जितना कम मिलेंगे उतरा ही कोरोना कंट्रोल में रहेगा. इसलिए जनता कर्फ्यू को लागू किया गया है.

जनता कर्फ्यू के दौरान घर में टीवी देखिए, बच्चों के साथ घर में खेलिए, परिवार के साथ वक्त बिताइए या कुछ और काम कीजिए लेकिन घर से बाहर मत निकलने की कोशिश मत कीजिए. सिर्फ घर से बाहर ना निकलने का काम आपको करना है. जनता कर्फ्यू के बीच लोगों कम से कम बाहर निकले इसके लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर ज्यादा से ज्यादा रोक लगा दी गई है.

जनता कर्फ्यू का असर, ट्रेनों से लेकर यह सब रहेगा बंद

भारतीय रेलवे ने करीब 3700 ट्रेनें एक दिन यानी जनता कर्फ्यू के लिए रद्द कर दी हैं. दिल्ली समेत कई शहरों में यातायात प्रभावित है. दिल्ली मेट्रो पर भी ब्रेक लग गया है. इसके अलावा अलग-अलग राज्य सरकारों ने बस के पहिए भी जाम कर दिए हैं. दिल्ली में आज सिर्फ 50 फीसदी बसें ही चलेंगी. यूपी में भी सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक रोडवेज की बसें नहीं चलेंगी. नोएडा में आज सभी फैक्ट्रियों, कंपनियों, रेस्टोरेंट को बंद करने का आदेश दिया गया है.

उत्तराखंड में भी रात 10 बजे तक निगम की बसें नहीं चलेंगी. बाहर से आने वाली बसों पर भी पाबंदी है. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के डर से झारखंड में इंटरस्टेट बस सेवा पर अगले आदेश तक रोक लगा दी गई है. इसके अलावा पश्चिम बंगाल में भी रात 12 बजे से 31 मार्च तक इंटरस्टेट बस सेवा पर रोक है.

जनता कर्फ्यू के दौरान क्या खुला क्या बंद?

जनता कर्फ्यू के दौरान आज रात 10 बजे तक पैसेंजर ट्रेन नहीं चलेंगी. मेल और एक्सप्रेस ट्रेन भी रविवार सुबह 4 बजे से रात 10 बजे तक नहीं चलेंगी. दिल्ली, नोएडा, बेंगलुरु, चेन्नई में भी मेट्रो नहीं चलेगी. आज गो एयर की सभी उड़ानें ठप रहेंगी. दिल्ली में आज से सभी इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर 29 मार्च तक रोक लगा दी गई है. इसके अलावा ज्यादातर राज्यों में दुकानें, मॉल, बाजार बंद रहेंगे. हालांकि जनता कर्फ्यू के दौरान अस्पताल, केमिस्ट की दुकान, मेडिकल लैब, सब्जी-किराने की दुकान और कुछ राज्यों में पेट्रोल-पंप खुले रहेंगे. यानी जरूरी सामान तक लोगों की पहुंच होगी. इसके अलावा पुलिस स्टेशन, फायर ब्रिग्रेड स्टेशन और ATM खुले रहेंगे.

बात दें कि देश में कोरोना संक्रमित मामलों में इजाफा हुआ है और मरीजों का आंकड़ा 330 के पार जा चुका है. पिछले आठ दिनों में कोरोना के मामले तीन गुना बढ़ गए हैं. मामलों के बढ़ने की दर दोगुना से तीन गुना हो रही है. 14 मार्च तक कोरोना के देश में 96 मामले थे जो 18 मार्च को 168 पहुंच गए. देश में कोरोना के मरीज अब तेजी से बढ़ रहे हैं.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से जनता कर्फ्यू के दौरान रविवार यानी 22 मार्च 2020 को शाम 5 बजे 5 मिनट के लिए अपने घर से कोरोना कमांडो के लिए ताली बजाने या थाली बजाने की अपील की है. जिससे मेडिकल स्टाफ समेत उन सब लोगों का अभिवादन किया जा सके जो कोरोना से जनता को बचाने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं.